Home /News /haryana /

दहेज में फॉर्च्यूनर मांगने के मामले में नया मोड़, दूल्हे ने फोन पर कहा था- मुझे कार चलानी नहीं आती, नहीं चाहिए

दहेज में फॉर्च्यूनर मांगने के मामले में नया मोड़, दूल्हे ने फोन पर कहा था- मुझे कार चलानी नहीं आती, नहीं चाहिए

ऑडियो में लड़का दहेज में गाड़ी नहीं लेने की बात कह रहा है.

ऑडियो में लड़का दहेज में गाड़ी नहीं लेने की बात कह रहा है.

Karnal Dowry News: दहेज में फॉर्च्यूनर गाड़ी, 20 लाख रुपए मांगने पर Phd कोमल की शादी टूटने का मामला अब हरियाणा महिला आयोग पहुंच चुका है. आयोग की चेयरमैन प्रीति भारद्वाज दलाल ने खुद मामले पर संज्ञान लिया. उन्होंने पहले लड़की पक्ष, फिर लड़के पक्ष से बातचीत की. यह बातचीत केस की तफ्तीश कर रहे DSP के सामने ही हुई.

अधिक पढ़ें ...

    हिमांशु नारंग

    करनाल: हरियाणा के करनाल जिले में दहेज (Dowry) में 20 लाख रुपए और फॉर्च्यूनर (Fortuner) गाड़ी मांगने के बाद शादी (Marriage) टूटने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. अब इस मामले में कुछ ऑडियो सामने आए हैं. पहले ऑडियो में लड़का अपने होने वाले ससुर से फोन पर बात कर रहा है. इसमें लड़का दहेज में गाड़ी नहीं लेने की बात कह रहा है. वहीं लड़का कह रहा है कि उसे गाड़ी चलानी नहीं आती. वहीं उसे अभी गाड़ी की जरूरत भी नहीं है.

    वहीं दूसरी ऑडियो में लड़का होने वाली दुल्हन को फोन पर कहता है कि तुम्हारे पापा कार क्यों दे रहे थे यार. मुझको नहीं चाहिए, मैंने तुमको पहले भी कहा था. वहीं लड़की कहती है कि मुझे चाहिए हो तो. इसके जवाब में वो कहता है कि तुमको चाहिए तो मेरे पास जो है वो ही रहेगा, ऐसा नहीं कि मैं तुमको यहां वहां से लेकर दूंगा. वहीं लड़की कहती है कि मुझे पहले ही पता था. मैंने पापा को पहले ही कहा था कि नसीब आपको इस बात के लिए मना करेगा.

    बता दें कि दुल्हन पक्ष ने दूल्हे वालों पर फॉर्च्यूनर कार और 20 लाख कैश की डिमांड कर पूरी रात फेरे ही नहीं होने देने का आरोप लगाया था. लड़की वालों ने मंगलवार सवेरे पुलिस बुला ली थी. पुलिस के सामने सुबह 8:00 बजे दूल्हे वाले फेरों के लिए झट तैयार हो गए. लड़की पक्ष का कहना था कि रात 2 से 3 बजे के बीच फेरे होने थे, लेकिन बार-बार बुलाने पर नहीं आए. अब पुलिस को देखकर मान गए हैं, बाद में कुछ भी कर सकते हैं.

    दुल्हन पक्ष की शिकायत पर पुलिस ने दूल्हे नसीब, उसके पिता करतार और भाई प्रीतम के खिलाफ केस दर्ज किया है. जींद निवासी दूल्हा नसीब केंद्रीय कृषि विभाग में वैज्ञानिक हैं. दुल्हन कोमल भी शिक्षा विभाग में कार्यरत हैं. लड़की के पिता ने बताया कि बरात आई तो 80 बारातियों को चांदी का एक-एक सिक्का दिया गया. उसके बाद लग्न की रस्म हुई. उसमें उन्होंने सामर्थ्य के अनुसार, होने वाले समधी को अंगूठी और दूल्हे को चेन पहनाई. जब लग्न की रस्म पूरी होने के बाद वहां से उठे तो लड़के ने तुरंत चेन गले से खींचकर फेंक दी.

    हम हाथ जोड़कर उनसे प्रार्थना करने लगे तो सामने आया कि लड़के के बहनोई व दूसरे भाई की भी चेन चाहिए थी.हमने दो दिन तक देने के लिए प्रार्थना की. वो मना करते हुए गाली-गलोच करने लग गए और फेरों पर आने से मना कर दिया. 20 लाख रुपए और फॉर्च्यूनर गाड़ी की डिमांड की गई.  लंबे समय तक लड़का पक्ष के लोगों में खुसर-फुसर होती रही. हम उन्हें बुलाते रहे और वो हमें टालत रहे. मेरी बेटी एलएलबी, एलएलएम, पीएचडी है. वो जॉब करती है. जब किसी की बेटी को कोई ऐसे छोड़ दे तो कोई बाप क्या करे.

    Tags: Dowry, Dowry Harassment, Haryana police, Marriage news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर