लाइव टीवी

करनाल: ट्रकों की पार्किंग को लेकर हुई थी हत्या, दो आरोपी पानीपत से गिरफ्तार
Karnal News in Hindi

News18 Haryana
Updated: December 19, 2019, 7:26 AM IST
करनाल: ट्रकों की पार्किंग को लेकर हुई थी हत्या, दो आरोपी पानीपत से गिरफ्तार
हत्या मामले में पकड़े गए आरोपियों से पुलिस कर रही पूछताछ

करनाल (Karnal) जिले में महीने भर पहले हुए अंधे कत्ल (Blind Murder) की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है.

  • Share this:
करनाल. हरियाणा (Haryana) के करनाल (Karnal) जिले में महीने भर पहले हुए अंधे कत्ल (Blind Murder) की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है. करनाल पुलिस (Karnal Police) की सीआई ए वन शाखा ने इस मामले से पर्दा उठाया है. मामले में पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि पार्किंग को लेकर झगड़ा हुआ था. पकड़े गए आरोपियों पर पहले भी कई केस दर्ज हैं.

2 आरोपी पानीपत से गिरफ्तार, दो बागपत जेल में हैं बंद 

करनाल पुलिस ने 13 नवंबर को हुए ब्लाइंड मर्डर केस में 2 आरोपियों को पानीपत से गिरफ्तार किया है, जबकि दो आरोपी अभी उत्तर प्रदेश के बागपत जेल में बंद हैं. इन दोनों आरोपियों को जल्द ही करनाल पुलिस प्रोडक्शन वारंट पर करनाल लेकर आएगी. पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार किए गए दो आरोपियों पर पहले से कई मामले दर्ज हैं. फिलहाल, पकड़े गए दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद, जेल भेज दिया गया है.



पूरा मामला



पुलिस के अनुसार दो ट्रक चालकों में पार्किंग को लेकर आपस में झगड़ा हो गया था, जिसमें आरोपियों द्वारा इस हत्या को अंजाम दिया गया था. बता दें कि बीते 13 नवंबर को लाडवा निवासी महेंद्र सिंह ने पुलिस को शिकायत दी थी कि वह अपने साथियों को ट्रक में लेकर लाडवा से झज्जर जा रहा था. उसके पीछे एक यूपी नंबर का ट्रक आ रहा था. जब उन्होंने अपना ट्रक रम्बा से कुछ दूरी पर बने एक चडदीकला नामक ढाबे पर रोका, तो पीछे से आ रहे यूपी नंबर का वो ट्रक भी वहां आकर रुक गया. इस दौरान ट्रकों की पार्किंग को लेकर उनमें विवाद हो गया.

यूपी के ट्रक चालक से पार्किंग को लेकर हुई थी लड़ाई

शिकायतकर्ता महेंद्र सिंह ने बताया कि वो अपना ट्रक लेकर वहां से चलने लगा, तो यूपी के ट्रक चालक ने सलारू से कुछ आगे उन्हें रोक लिया और ट्रक से नीचे उतरकर उन्हें गाड़ी से नीचे खींचने लगा. इसके बाद लोहे की रॉड आदि से हमला कर मौके से फरार हो गया. मामले की सूचना पुलिस को दी गई. घायलों को अस्पताल ले जाते समय घायल हरदोई उतराखड़ निवासी प्रमोद कुमार की मौत हो गई.

मामले में सीआई-वन इंचार्ज दीपेंद्र राणा ने बताया कि ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझाने की जिम्मेदारी एसपी सुरेंद्र सिंह भौरिया द्वारा सीआईवन को सौंपी गई थी. इस पर टीम ने तकनीकी तरीकों और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों तक पहुंचकर उन्हें गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की.

पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ जारी

आरोपियों को कोर्ट में पेश कर रिमांड में लिया गया है. आरोपियों से घटनास्थल की निशानदेही करवाई गई. पूछताछ में दोनों आरोपियों ने कबूला है कि उनके दो अन्य साथी आरोपी अजय उर्फ गोली और मोने उर्फ बाटू वासी बाबली थाना बडौत बागपत वारदात में शामिल थे, जो इस समय बागपत जेल में बंद हैं. पुलिस के अनुसार बागपत जेल में बंद दोनों आरोपियों के खिलाफ बागपत जेल में लड़ाई झगड़े की विभिन्न धाराओं में केस दर्ज है.

 (करनाल से हिमांशु नारंग की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें:- फेसबुक में दोस्त बनी महिला ने NSG कमांडो से 5 लाख रुपये ठगे

ये भी पढ़ें:- कृषि मंत्री जेपी दलाल के पिता कैप्टन कर्णसिंह का निधन, लंबे समय से थे बीमार
First published: December 19, 2019, 7:26 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading