• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • करनालः जहरीले खाने से गई दो बच्चों की जान, मां की हालत भी नाजुक, खाया था मिड-डे मील का चावल

करनालः जहरीले खाने से गई दो बच्चों की जान, मां की हालत भी नाजुक, खाया था मिड-डे मील का चावल

करनाल में दो बच्चों की मौत

करनाल में दो बच्चों की मौत

Two Children Died in Karnal: करनाल के रिसालवा में गांव में जहरीला खाना खाने से दो बच्चों की मौत हो गई, जबकि मां की हालत गंभीर बनी हुई है. परिवार का आरोप है कि मिड डे मील के चावल खाने से बच्चों की तबियत बिगड़ी और मृत्यु हुई है.

  • Share this:

    करनाल. हरियाणा के करनाल जिले के रिसालवा गांव में 2 बच्चों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत (Death) हो गई. वहीं मां की हालत नाजुक है. वह अस्पताल में जिंदगी के लिए मौत से जंग लड़ रही है. परिवार के लोगों आरोप है कि मिड डे मील (Mid Day Meal) का चावल (Rice) खाने के बाद सभी की तबियत बिगड़ी और दो बच्चों की मौत हो गई. वहीं गांव के सरपंच का कहना है कि ये भी हो सकता है घर में बनी सब्जी में कोई छिपकली गिरी हो, जिसके बाद खाना खाने से बच्चों की मौत हुई हो. फिलहाल दोनों बच्चों के शवों का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है. बहरहाल पुलिस ने खाने के सैंपल लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है.

    मिली जानकारी के मुताबिक जिले के रिसलावा गांव में जहरीले भोजन से जान गंवाने वाले दोनों बच्चे सगे भाई हैं. एक भाई का नाम सागर और दूसरे नाम प्रतीक था. परिवार वालों ने बताया कि बच्चे स्कूल से मिड डे मील के चावल लाए थे, जिन्हें शाम के समय घर पर बनाई गई सब्जी के साथ खाया गया. खाना खाने के बाद रात को दोनों बच्चों और मं तबियत खराब हुई और उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया. अस्पताल में इलाज के दौरान दोनों बच्चों की मौत हो गई. वहीं मां की हालत गंभीर बनी हुई है. वह करनाल के कल्पना चावला अस्पताल में भर्ती है.

    6 साल पहले हुई थी पिता की मौत
    अस्पताल में इलाज के दौरान दोनों बच्चों की मौत हो गई. वहीं मां की हालत गंभीर बनी हुई है. गांव वालों ने बताया कि बच्चों के पिता सुनील की करीब 6 साल पहले मौत हो गई थी. सुनील अपने पीछे 29 साल की पत्नी पूनम व 11 साल के बेटे सागर, 9 साल के बेटे प्रतीक को छोड़ गया था. सुनीता मजदूरी करके दोनों बच्चों का पालन पोषण कर रही थी. 11 वर्षीय सागर का असंध के सरकारी अस्पताल में और 9 वर्षीय प्रतीक का सामान्य अस्पताल करनाल में पोस्टमार्टम करवाया गया.

    बिसरा रिपोर्ट से ही पता चलेगा मौत का कारण
    सालवन चौकी प्रभारी संजय कुमार ने बताया कि पोस्टमार्टम (Post mortem) करवाकर शव परिजन को सौंप दिए हैं. विसरा रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चल पाएगा. वहीं जब इस बारे में गांव के सरपंच से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ये भी हो सकता है कि बच्चों ने जो घर पर बनाई सब्जी खाई हो, उसमें बनाते समय कोई छिपकली गिर गई हो. क्योंकि अगर मिड डे मील के चावल खाने से कोई बीमार होता तो फिर स्कूल से जुड़े बाकी लोग भी होते.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज