Home /News /haryana /

क्या गोबर खाने से बीमार हो गए करनाल के डॉक्टर? जानें Viral खबर की सच्चाई

क्या गोबर खाने से बीमार हो गए करनाल के डॉक्टर? जानें Viral खबर की सच्चाई

सोशल मीडिया पर अपलोड की गई ये पोस्ट

सोशल मीडिया पर अपलोड की गई ये पोस्ट

Karnal Viral News: डॉक्टर मित्तल का कहना है कि गोबर के फॉर्म पर रिसर्च होनी चाहिए. इससे पता लगाया जा सकता है कि कितनी मात्र में गोबर का सेवन किया जाना चाहिए. कुछ लोग अंडे पर रिसर्च कर रहे हैं. अंडा भी मल है और गोबर भी मल है. अंडे को खुश होकर खाते हैं, जबकि दोनों से मानव के शरीर में बीमारी से फायदा होता है.

अधिक पढ़ें ...

    हिमांशु नारंग

    करनाल. हरियाणा के करनाल (Karnal) जिले के डॉ. मनोज मित्तल एक बार फिर से चर्चा में हैं. इस बार चर्चा उनके बीमार होने की है. सोशल मीडिया (Social Media) पर फाेटो से प्रचार हो रहा है कि गोबर खाने वाले डॉक्टर को इंफेक्शन हुआ है. साथ ही इंफेक्शन का कारण भी गोबर को बताया गया है.

    इस बारे में जब डॉ. मनोज मित्तल से बातचीत की गई तो उन्हाेंने बताया कि वो पूरी तरह से स्वस्थ हैं. ये किसी ने फेक फोटो डाल दी है. मैं पूरी तरह स्वस्थ हूं. इससे पहले इसी तरह से डॉ. मनोज मित्तल के गोबर खाने और उसके फायदे बताए जाने का वीडियो वायरल हुआ था. इसके बाद उन्हें बहुत कमेंट मिले. अब एक फोटो वायरल हो रही है जिसमें एक व्यक्ति वेंटिलेटर पर है और उस तस्वीर को ब्लर किया गया है.

    सोशल मीडियो पर अपलोड की गई फोटो पर लिखा गया है कि ये वही डॉक्टर है जो गोबर खाकर उसके फायदे बता रहा था, अब उस डॉक्टर को इंफेक्शन हो गया है और इन्फेक्शन गोबर खाने की वजह से हुआ है. लेकिन जब उस वायरल तस्वीर की हकीकत जानी तो वो कुछ और ही निकली.

    डॉक्टर मनोज मित्तल ने बताया कि ऐसा लोग TRP के चक्कर में करते हैं. मैं तो प्राकृतिक जीवन शैली जीता हूं. ये किसने डाली मैं इसके पीछे नहीं जाउंगा. जब उनसे पूछा गया कि आपके वीडियो पर कुछ लोग गलत कमेंट करते हैं तो उन्होंने कहा कि मेरे साथ डेढ़ लाख लोग जुड़े हैं, जो मुझसे अकसर जानकारी लेते रहते हैं.

    समय-समय पर गौमूत्र, गोबर, तुलसी रस समेत औषिधियां लेता रहता हूं. इस पर क्या कमेंट करते हैं, इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता. उन्होंने कहा कि गोबर की फॉर्म पर रिसर्च होना चाहिए. इससे पता लगाया जा सकता है कि कितनी मात्र में गोबर का सेवन किया जाना चाहिए. कुछ लोग अंडे पर रिसर्च कर रहे हैं. अंडा भी मल है और गोबर भी मल है. अंडे को खुश होकर लेते हैं, जबकि दोनों से मानव के शरीर में बीमारी से फायदा होता है. मैं तो प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री से इसकी गुहार लगाता हूं कि गाय के गोबर पर रिसर्च हो.

    Tags: Cow, Dung Gas, Viral news

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर