कैप्टन अभिमन्यु: सेना से सियासत तक का सफर
Chandigarh-City News in Hindi

कैप्टन अभिमन्यु: सेना से सियासत तक का सफर
कैप्टन अभिमन्यु की नारनौंद सीट से बीजेपी उम्मीदवार हैं

Haryana Assembly Election: हरियाणा के सबसे ज्यादा पढ़े-लिखे नेताओं में होती है कैप्टन अभिमन्यु की गिनती, जाटलैंड की नारनौंद सीट पर उनके सामने बरकरार है चुनौती!

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 21, 2019, 5:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणा की सियासत में कैप्टन अभिमन्यु (Captain Abhimanyu) के दखल का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मनोहरलाल खट्टर सरकार (Manohar Lal Khattar Government) में इनके पास वित्त, राजस्व, आबकारी एवं कराधान जैसे 8 अहम् विभागों की जिम्मेदारी थी. अभिमन्यु की वजह से हिसार जिले की नारनौंद विधानसभा (Narnaund Assembly) हाईप्रोफाइल सीटों में शामिल है. अभिमन्यु ने सेना (Army) के जरिए देश की सेवा करते हुए सियासत (Politics) में आए. वह यूपीएससी (UPSC) में भी चुने गए थे. हावर्ड बिजनेस स्कूल से ग्रेजुएशन किया. कुल मिलाकर उनकी गिनती हरियाणा के सबसे ज्यादा पढ़े-लिखे नेताओं में होती है. वो कृषि अर्थव्यवस्था और जमीनी मुद्दों को लेकर अपनी गहरी समझ के लिए जाने जाते हैं.

इसी सीट से 2014 में भी उन्होंने चुनाव जीता था. तब उन्होंने इनेलो (INLD) के राज सिंह मोर को 5761 वोट से हराया था. इस साल के विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election 2019) में उनके सामने कांग्रेस ने बलजीत सिहाग को उतारा है. जन नायक जनता पार्टी (BJP) से रामकुमार गौतम मैदान में हैं. रामकुमार नारनौंद विधानसभा सीट से चार बार चुनाव लड़ चुके हैं. इनेलो ने जस्सी पेटवाड़ को उनके मुकाबले खड़ा किया है.

Captain Abhimanyu, कैप्टन अभिमन्यु, haryana assembly election 2019, हरियाणा विधानसभा चुनाव, bjp, बीजेपी, JJP, जन नायक जनता पार्टी, Narnaund Vidhan Sabha constituency, नारनौंद विधानसभा क्षेत्र, inld, इनेलो, congress, कांग्रेस, Narnaund Assembly, नारनौंद विधानसभा, सेना, Army, यूपीएससी, UPSC
हरियाणा बीजेपी के पुराने नेता हैं कैप्टन अभिमन्यु




जाटलैंड की सियासत  



नारनौंद सीट जाटलैंड में आती है. कैप्टन जाट समुदाय से आते हैं. इसलिए उनके लिए इस बार भी रास्ता आसान माना जा रहा है. हालांकि 2019 के लोकसभा चुनाव में हिसार की इस विधानसभा में बीजेपी कांग्रेस के मुकाबले पीछे थी. देखना ये है कि क्या कैप्टन यह स्थिति इस बार बदल पाएंगे. 2014 चुनाव के बाद कैप्टन सीएम की दौड़ में शामिल थे. लेकिन पार्टी नेतृत्व को जाट सीएम मंजूर नहीं था. कैप्टन ने बीजेपी (BJP) संगठन में भी काम किया है.

जन्म और पढ़ाई

अभिमन्यु का जन्म 18 दिसंबर, 1967 को हिसार जिले के खंडा खेरी गांव में हुआ था. उनके उनकी स्कूली शिक्षा और कॉलेज की पढ़ाई रोहतक में हुई. उनके पास बैचलर ऑफ कॉमर्स, एलएलबी और पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन सहित कई डिग्रियां हैं. वो एक बड़े बिजनेसमैन हैं. एक अखबार का भी संचालन करते हैं.
ये भी पढ़ें:



कौन आगे बढ़ाएगा चौधरी देवीलाल की राजनीतिक विरासत?

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading