Home /News /haryana /

हरियाणा: शहीद की बेटी बनी सब इंस्पेक्टर, पहली ही परीक्षा में हासिल की नौकरी

हरियाणा: शहीद की बेटी बनी सब इंस्पेक्टर, पहली ही परीक्षा में हासिल की नौकरी

मूल रूप से यमुनानगर की रहने वाली है नैंसी

मूल रूप से यमुनानगर की रहने वाली है नैंसी

Haryana News: नैंसी सैनी ने बताया कि उनके पिता मंगतराम आर्मी सप्लाई कोर (एएससी) में नौकरी करते थे. उनकी 2002 में जम्मू कश्मीर के राजौरी सेक्टर में ड्यूटी थी. उनकी इस दौरान गोली लगने से मौत हो गई थी. सरकारी नौकरी के लिए हरियाणा पुलिस में सब इंस्पेक्टर का फार्म भरा. इसके लिए एक साल की कोचिंग ली अब उसका चयन सब इंस्पेक्टर के लिए हो गया है. यह सब सरकार की नीतियों के चलते हुआ है.

अधिक पढ़ें ...

    कुरुक्षेत्र. शहीद सैनिक की बेटी नैंसी ने बिना खर्ची व पर्ची के योग्यता के आधार पर हरियाणा पुलिस में सब इंस्पेक्टर की नौकरी हासिल की है. नैंसी सैनी (Nancy Saini) के पिता मंगतराम की 2002 में राजौरी में ड्यूटी के दौरान गोली लगने से मौत (Death) हो गई थी. उन्‍होंने पिता की मौत के बाद परिवार में आई परेशानियों का सामना किया, लेकिन मजबूत हौसले के बल पर हरियाणा पुलिस में सब इंस्पेक्टर बनी हैं.

    इस बेटी के साथ साथ परिजनों ने कभी सपने में नहीं सोचा था कि हरियाणा में इतने सहज तरीके से इतने बड़े पद की नौकरी मिल जाएगी. सेक्टर 2 निवासी नैंसी सैनी ने बताया कि जीवन में पहली बार किसी सरकारी नौकरी के लिए लिखित परीक्षा दी थी. हांलाकि ग्राम सचिव के लिए भी परीक्षा दी थी, लेकिन पेपर रद्द हो गया था. इसके बाद सब इंस्पेक्टर पद के लिए पहली अपीयर हुई थी. इस परीक्षा में मैरिट में आने के बाद शारीरिक परीक्षा भी बड़ी सहजता के साथ पास कर ली.

    युवाओं को दिया ये संदेश
    नैंसी ने कहा,’ कभी सपने में भी सोचा था कि पहली बार में ही सब इस्पेक्टर बन जाएंगी.’ इसके साथ उन्‍होंने युवाओं को संदेश देते हुए कहा कि सभी को खूब मेहनत से पढ़ना चाहिए ताकि परीक्षा पास करके अच्छे पदों पर नौकरी हासिल कर सके. सरकारी नौकरी के लिए सिर्फ मेहनत करने की ही जरूरत है.

    नैंसी सैनी का कहना है कि पूजा पब्लिक स्कूल से 12वीं व डीएन कॉलेज से बीएस कंप्यूटर में डिग्री हासिल की और एक साल तक तैयारी की है. उनकी माता सुनीता सैनी और भाई गौरव सैनी ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल का आभार व्यक्त किया है.

    मां सुनीता रानी ने बताया कि उसके पिता की मौत के समय नैंसी की उम्र ढाई साल थी. वह अक्सर अपने पिता के बारे में पूछती थी और सरकारी नौकरी में जाना चाहती थी. उसकी बेटी को योग्यता के आधार पर सब इंस्पेक्टर की नौकरी मिली है.

    Tags: CM Manohar Lal Khattar, Jobs, Sub Inspector

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर