अपना शहर चुनें

States

देशभर से चुनी गईं 12 महिला स्वच्छताग्रहियों को पीएम मोदी ने किया सम्मानित

पीएम नरेंद्र मोदी
पीएम नरेंद्र मोदी

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि बेटियों को किचन के दायरे से बाहर योगदान देने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है.

  • Share this:
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुरुक्षेत्र में स्वच्छ शक्ति 2019 के तहत कई परियोजनाओं का शिलान्यास किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वच्छ शक्ति कार्यक्रम में 20 हजार महिला सरपंच और पंच को स्वच्छता का संकल्प दिलाने पहुंचे थे. उन्होंने इस कार्यक्रम में स्वच्छता अभियान के तहत अपने गांवों को खुले शौच से मुक्त कराने के लिए 12 महिला पंच और सरपंचों को सम्मानित किया.

इन महिला सरपंचों के गांव जहां पूरी तरह खुले में शौच मुक्त हैं. वहीं, इन्होंने हर घर में शौचालयों को भी बाहर और अंदर से सजावटी बनाया है. प्रतियोगिता में उनके गांवों के शौचालय स्वच्छ और सुंदर निकले.

पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि बेटियों को किचन के दायरे से बाहर योगदान देने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. देश में पहली बार बेटियां फाइटर पायलट बनी हैं. महिलाओं को अपने नवजात शिशुओं के अच्छी तरह लालन-पालन के लिए पर्याप्त समय मिल सके, इसके लिए मैटरनिटी लीव को 12 सप्ताह से बढ़ाकर 26 सप्ताह किया गया है.



बता दें कि स्वच्छता और ओडीएफ में बेहतर काम को लेकर पिछले साल पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय की तरफ से आवेदन मांगे थे. इसके बाद देशभर से 12 महिला पंच-सरपंचों को चुना गया. ये सभी 15 महिलाएं अपने गांवों की पंचायत की मुखिया हैं.
इन सभी महिलाओं ने खुले में शौच मुक्त गांव बनाने के लिए एक जैसी बाधाएं पार कीं और मेहनत की. मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के देहात में लोगों को समझाना काफी मुश्किल काम था. लोगों का विरोध भी झेला, लेकिन परवाह नहीं की. सरकार की तरफ से गांवों में टारगेट मिले, उनसे बढ़कर काम किया.

ये भी पढ़ें:-

उन कश्मीरी युवकों पर भी हो सकती है कार्रवाई, जो AMU के छात्र नहीं

सीमा पार कर भारत में घुसे चीनी सैनिक, जवानों के दखल के बाद लौटे वापस
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज