Home /News /haryana /

haryana police asi arrested red handed taking bribe of rs 2 lakh hrrm

2 लाख रुपए की रिश्वत लेता हरियाणा पुलिस का ASI रंगे हाथ गिरफ्तार

रिश्वत लेते पुलिस वाला गिरफ्तार

रिश्वत लेते पुलिस वाला गिरफ्तार

Haryana News: एएसआइ नरेश कुमार के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके सतर्कता विभाग की टीम उसे अपने साथ ले गई. इस मामले में नारनौल के एसडीएम मनोज कुमार को ड्यूटी मजिस्टे्ट तैनात किया गया था.

महेंद्रगढ़. हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले में एक बार फिर से खाखी दागदार हुई है. जहां विजिलेंस की टीम ने रेड कर एसआई को 2 लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. आरोपी एएसआई एक मामले में नाम निकालने की एवज में साढ़े 3 लाख रुपये की रिश्वत मांगी थी, जिसमे 2 लाख रुपये लेते हुए विजिलेंस की टीम ने उसे धर दबोचा. आरोपी एएसआई को वकील के चैंबर से गिरफ्तार किया गया.

विजिलेंस अधिकारी नवल किशोर ने बताया कि बताया कि 29 अक्तूबर, 2021 को रवि कुमार व प्रदीप के खिलाफ महेंद्रगढ़ पुलिस थाने में धारा 406,420,467,468,471 व 34 के तहत केस दर्ज किया गया था. इस केस की जांच एएसआइ नरेश कुमार को सौंपी गई थी. इस मुकदमे में आरोपित रवि कुमार की गिरफ्तारी बीते तीन मार्च व प्रदीप कुमार की गिरफ्तारी 13 मार्च को की गई थी. आरोपित प्रदीप कुमार ने अपने बयान में चार अन्य लोगों के नाम लिए थे. जांच अधिकारी एएसआइ नरेश कुमार ने आरोपितों का चालान पेश करने व अन्य चार आरोपितों की गिरफ्तारी न करने की एवज में तीन लाख पचास हजार रुपये रिश्वत की मांग की थी.

शिकायतकर्ता ने अपने वकील को यह बात बताई.  फिर 12 तारीख को इन्होंने साढ़े तीन लाख की मांग की और कहा कि 16 तारीख को मैं चालान दे दूंगा. इसके उपरांत उन्होंने एक लाख ऑनलाइन ट्रांसफर कराए. उन्होंने कुल मिलाकर डेढ़ लाख रुपए ले लिए और कहा कि 16 तारीख को मैं चालान दे दूंगा. उसने कहा कि दो लाख  रुपये आपको उस दिन देने पड़ेंगे.

एएसआई ने  आज ही उसका चालान दिया और दो लाख  लेने उनके चेंबर में गया. जहां उसे दो लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है. एएसआइ नरेश कुमार के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके सतर्कता विभाग की टीम उसे अपने साथ ले गई.

Tags: Bribe news, Haryana news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर