हरियाणा के इस जिले में मिल सकता है यूरेनियम, सर्वे शुरू

हेलिकॉप्टर से नारनौल व आस-पास के क्षेत्र में सर्वे शुरू कर दिया है. (कॉन्सेप्ट इमेज)

हेलिकॉप्टर से नारनौल व आस-पास के क्षेत्र में सर्वे शुरू कर दिया है. (कॉन्सेप्ट इमेज)

Uranium News: हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले के नारनौल के नजदीकी गांव जोरासी के पास सर्वे का कार्य चल रहा है.

  • Share this:
महेंद्रगढ़. हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले में यूरेनियम (Uranium) मिल सकता है.  इन दिनों परमाणु ऊर्जा विभाग देश में परमाणु धातु के रिसोर्स खोजने के लिए सर्वे कर रहा है. विभाग ने हरियाणा (Haryana) व राजस्थान के कुछ एरिया को यूरेनियम धातु के लिए पोटेंशियल मानते हुए जमीन के स्तर से 60 मीटर की ऊंचाई से हेलिबार्न सर्वे किया जा रहा है. पिछले एक सप्ताह से नारनौल व खेतड़ी एरिया में सर्वे किया जा चुका है और शेष एरिया में भी जल्द ही सर्वे का कार्य पूरा कर लिया जाएगा.

बता दें कि नारनौल की पहाड़ियों में यूरेनियम की संभावनाओं को तलाशने की कवायद शुरू हो गई है. परमाणु ऊर्जा विभाग ने हेलिकॉप्टर की मदद से नारनौल व आस-पास के क्षेत्र में सर्वे शुरू कर दिया है. हालांकि सर्वे का कार्य पूरा होने के बाद पता चल सकेगा कि इस क्षेत्र में यूरेनियम की स्थिति क्या है? यदि सर्वे सफल होता है तो यह केवल महेंद्रगढ़ या हरियाणा ही नहीं, बल्कि देश की आर्थिक ताकत बढ़ाने में बड़ा सहायक साबित हो सकता है.

अगले छह मीने तक चलेगा सर्वे

इस सारी कवायद के बाद सफलता मिली तो प्राकृतिक संपदा के क्षेत्र में महेंद्रगढ़ जिले का नाम बड़े स्तर पर जुड़ सकता है. जानकारों की मानें तो यह सर्वे अगले छह मीने तक चलेगा, जिसके बाद इसके नतीजों के बारे में आधिकारिक रूप से जानकारी दी जाएगी.
बिजली संकट हो जाएगा दूर

बता दें कि नारनौल की पहाड़ियों में कई प्रकार की धातुएं मिल रही हैं. अरावली की खेतड़ी रेंज भी नारनौल से जुड़ी हुई है और यहां पर तांबा भी निकल रहा है. इसके अलावा कई अन्य धातुओं की संभावना भी बनी हुई है. नारनौल की तीजों वाली पहाड़ी में पहले सोने के लिए माइनिंग की गई थी. जीएसआइ का सर्वे कामयाब होता है तो देश के परमाणु संयंत्रों को ऊर्जा मिलेगी और बिजली संकट स्थायी तौर पर दूर हो सकेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज