अब सब्जी-फलों की फसल नुकसान पर भी मिलेगा बीमा क्लेम, सरकार ने किसानों के लिए शुरू की नई व्यवस्‍था

सब्जी और फलों की फसल नुकसान पर भी किसानों को मिलेगी मदद, बीमा से होगी भरपाई.

सब्जी और फलों की फसल नुकसान पर भी किसानों को मिलेगी मदद, बीमा से होगी भरपाई.

सरकार की ओर से सब्जी-फल के किसानों के लिए बीमा योजना की शुरुआत की गई है. इस योजना से सब्जी और फलों को होने वाले नुकसान पर किसानों को बीमा के जरिए आर्थिक मदद की गारंटी मिलनी शुरू हो जाएगी.

  • Share this:
नूह, मेवात. सब्जी फल की फसलों को प्राकृतिक आपदा से होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए नई व्यवस्था शुरू हुई है. सरकार की ओर से सब्जी-फल के किसानों के लिए बीमा योजना (Insurance) की शुरुआत की गई है. इस योजना से सब्जी और फलों को होने वाले नुकसान पर किसानों को बीमा के जरिए आर्थिक मदद की गारंटी मिलनी शुरू हो जाएगी. इससे पहले सब्जी तथा बाग से जुड़े किसानों को प्राकृतिक आपदा की स्थिति में कोई आर्थिक मदद सरकार की तरफ से नहीं दी जाती थी. राज्य सरकार की महत्वकांक्षी योजना से जुडऩे के लिए किसानों को अपनी फसलों का बीमा कराना होगा. इसके बाद सर्दी, गर्मी या किसी अन्य तरीके की प्राकृतिक आपदा से होने वाले नुकसान पर किसानों को उसकी भरपाई की जाएगी.

जिला बागवानी अधिकारी डॉ दीन मोहम्मद ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान बताया कि अगर पाला, आगजनी, ओलावृष्टि या किसी भी प्रकार से सब्जी की फसल खराब होती है तो 30 हजार रूपए की आर्थिक मदद फौरन दी जाएगी. इसके साथ ही फल की खेती खराब होती है तो 40 हजार की आर्थिक मदद सरकार की तरफ से दी जाएगी. उन्होंने बताया कि स्कीम से जुडऩे के लिए ढाई प्रतिशत प्रीमियम देना आवश्यक है. सब्जी फसल के लिए 750 तथा फलों की खेती के लिए 1000 रुपए देने होंगे.

डॉक्टर दीन मोहम्मद ने बताया कि इस बीमा योजना से सब्जी तथा फलों की खेती करने वाले किसानों की चिंता काफी हद तक दूर हो सकेगी. क्योंकि सरकार ने उनकी समस्याओं पर ध्यान देते हुए जोखिम मुक्त खेती करने के लिए बीमा योजना की शुरुआत कर दी है. इससे पहले गेहूं - सरसों, कपास इत्यादि फसलों के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ दिया जाता था, लेकिन किसानों के भविष्य को देखते हुए सरकार ने अब फल तथा सब्जी की खेती करने वाले किसानों को भी बड़ी राहत देने का काम किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज