लाइव टीवी

भीषण आग की चपेट में आई रोहिंग्या मुसलमानों की 57 झुग्गियां जलकर राख

News18 Haryana
Updated: May 28, 2018, 3:26 PM IST
भीषण आग की चपेट में आई रोहिंग्या मुसलमानों की 57 झुग्गियां जलकर राख
आग से जलकर राख हुई झोपड़ियां

भीषण गर्मी से बचाने के लिए फिलहाल अस्थाई टेंट की व्यवस्था करा दी गई है. खाने-पीने से लेकर तमाम जरूरत की चीजों की व्यवस्था प्रशासन कर रहा है. पड़ोसी गांव फिरोजपुर नमक और चंदेनी गांव की महिलाएं पीड़ित परिवारों को खाना और कपड़े की मदद कर रही हैं.

  • Share this:
रविवार को भीषण आग की चपेट में आई रोहिंग्या मुसलमानों की 57 झुग्गियों में कुछ नहीं बचा. रोहिंग्या करीब 6 साल पहले जिन कपड़ों को तन पर पहुंचकर आये थे,अब वही कपड़े उनके शरीर पर बचे हैं.. रोहिंग्या परिवारों को ढांढस बंधाने से लेकर मदद के लिए पहुंच रहे हैं.

जिला प्रशासन के अधिकारी भी हालात का जायजा ले रहे हैं. भीषण गर्मी से बचाने के लिए फिलहाल अस्थाई टेंट की व्यवस्था करा दी गई है. खाने-पीने से लेकर तमाम जरूरत की चीजों की व्यवस्था प्रशासन कर रहा है. पड़ोसी गांव फिरोजपुर नमक और चंदेनी गांव की महिलाएं पीड़ित परिवारों को खाना और कपड़े की मदद कर रही हैं.

नहीं गई किसी की जान

रविवार को जिस समय फिरोजपुर नमक गांव के समीप रह रहे रोहिंग्या की झुग्गियों में आग लगी. उस समय करीब 3 बजे का समय था. खुफिया विभाग उस समय रोहिंग्या को फिंगर प्रिंट के लिए कोर्ट में ले जाया गया था. महज एक दो परिवार ही उस समय झुग्गियों में मौजूद था. कुल 57 झुग्गियों में 208 लोग इस स्थान पर रहते हैं.

नूंह जिले में कहां-कहां रहते हैं रोहिंग्या

बर्मा से वर्ष 2012 में जान बचाकर भारत वर्ष में शरण लेने वाले रोहिंग्या नूंह शहर, फिरोजपुर नमक, शाहपुर नंगली, पुन्हाना इत्यादि स्थानों पर 1328 रोहिंग्या रहते हैं. ये परिवार बांस की झुग्गी इत्यादि बनाकर अपना गुजारा करते आ रहे हैं.

आग की घटना के बाद प्रशासन ने खुलवाया रोजा
Loading...

रविवार को ज्यादातर रोहिंग्या मुसलमान रोजा रखे हुये थे. इफ्तारी के लिए पूरा इंतजाम किया गया था,लेकिन आग ने सब कुछ लील लिया. आखिरकार प्रशासन और लोगों ने फल इत्यादि का प्रबन्ध कर उनका रोजा खुलवाया. रोहिंग्या का जीवन एक बार फिर पटरी पर आ गया है जिसे संवारने में लोगों की भरपूर मदद मिल रही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेवात से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 28, 2018, 3:26 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...