नूंह: 3 साल बाद पुलिस गिरफ्त में आया गैंगरेप आरोपी, कोर्ट ने भेजा जेल
Mewat News in Hindi

नूंह: 3 साल बाद पुलिस गिरफ्त में आया गैंगरेप आरोपी, कोर्ट ने भेजा जेल
प्रतिकात्मक तस्वीर

कई साल से जुम्मा और उसका साथी शहीद अहमद पुलिस को चकमा दे रहे थे. इसी दौरान वे उदघोषित अपराधियों की सूचि में शामिल हो गए.

  • Share this:
सीआईए नूंह पुलिस ने तीन साल से गैंगरेप के मामले में भगौड़े चल रहे आरोपी को दबोचने में सफलता प्राप्त की है. पकड़े गए आरोपी के एक साथी को  14 फरवरी को  सीआईए पुलिस द्वारा  गिरफ्तार किया गया था, जिसके बाद कल सीआईए पुलिस दूसरे आरोपी शहीद अहमद को भी गिरफ्तार कर लिया. पकड़े गए आरोपी को अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भोंडसी जेल भेज दिया गया.

सीआईए पुलिस लाइन नूंह में कार्यरत एएसआई आबिद हुसैन ने बताया कि गत 5 अक्टूबर 2016 को नूंह खंड के एक गांव से भोंडसी जेल में पहुंचे आरोपी जुम्मा उर्फ़ लीला पुत्र सहजू निवासी देवला लड़की को बहला फुसला कर गुरुग्राम ले गया था. जहां आज पकड़े गए शहीद अहमद के साथ मिलकर लड़की के साथ रेप किया था. दोनों की उसी समय से पुलिस को तलाश थी.

कई साल से जुम्मा और उसका साथी शहीद अहमद पुलिस को चकमा दे रहे थे. इसी दौरान वे उदघोषित अपराधियों की सूचि में शामिल हो गए. आख़िरकार सीआईए नूंह ने देवला गांव से जुम्मा को दबोच कर भोंडसी जेल पहुंचा दिया और कल शहीद अहमद को सुडाका गांव से दबोच लिया और आज आरोपी को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया.



एएसआई आबिद हुसैन ने कहा कि सीआईए नूंह के पास यह फाइल आई थी, जिसमें एक आरोपी 14 फरवरी को गिरफ्तार कर भौंडसी जेल भेज दिया गया और आज  दूसरे आरोपी  शहीद अहमद को  गिरफ्तार कर लिया है.
यह भी पढ़ें - अंबाला में भूतपूर्व सैनिकों ने कहा- 'हम अभी हथियार चलाना नहीं भूले', पाक का झंडा फूंका

यह भी पढ़ें- पुलवामा में आतंकी हमले पर बोले चौटाला, कहा- सरकार को चाहिए वो शहीदों का बदला ले
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज