लाइव टीवी

हाजियों पर बढ़ा बोझ, इस साल खर्च करनी पड़ रही अधिक राशि
Mewat News in Hindi

Kasim Khan | News18 Haryana
Updated: June 28, 2018, 5:53 PM IST
हाजियों पर बढ़ा बोझ, इस साल खर्च करनी पड़ रही अधिक राशि
बैठक में भाग लेते हज यात्री

इस बार हरियाणा से करीब 1500 लोग हज यात्रा पर जाने वाले हैं, जिनमें अधिकतर हाजी नूंह मेवात जिले से होते हैं. तक़रीबन 1000 लोग अकेले नूंह जिले से हज यात्रा पर जाते हैं.

  • Share this:
मक्का-मदीना में हज की पवित्र यात्रा पर चंद दिनों बाद जाने वाले हाजियों को इस बार बीते सालों की तुलना में अधिक जेब ढीली करनी पड़ेगी. हज कमेटी इंडिया ने जैसे ही यह आदेश दिया तो मुस्लिम समुदाय में नाराजगी की खबरें आने लगी. लेकिन अगर दिल की हसरत पूरी करनी है, तो जेब ढीली करनी ही होगी. हालांकि कुछ मुस्लिम समाज के लोगों ने सरकार से इस फैसले को वापस लेने की गुहार लगाई है.

बता दें कि इस बार हरियाणा से करीब 1500 लोग हज यात्रा पर जाने वाले हैं, जिनमें अधिकतर हाजी नूंह मेवात जिले से होते हैं. तक़रीबन 1000 लोग अकेले नूंह जिले से हज यात्रा पर जाते हैं. हज यात्रा की दो कैटेगरी होती है. ग्रीन और अजीजिया, इस बार ग्रीन श्रेणी वालों को 7750 और अजीजिया वालों को 7150 रुपये अधिक देने का फरमान हाल ही में आया है. हाजी पहले ही लाखों की रकम जमा करा चुके हैं, लेकिन अगर बढ़ी हुई राशि आगामी 10 जुलाई तक नहीं भरी तो टिकट की कार्रवाई पूरी नहीं होगी.

जानकारों के मुताबिक पहले करीब दो लाख रुपये और अब करीब सवा दो लाख रुपये की राशि खर्च हो रही है. ऐसे में पाई-पाई जोड़कर हज पर जाने की हसरत रखने वाले लोगों को भारी परेशानी हो सकती है. नूंह बड़ा मदरसा के मुफ़्ती जाहिद हुसैन ने इसे गलत बताया है. उन्होंने कहा ये हाजियों पर बोझ है. टैक्स  ज्यादा लगने  की वजह से यह राशि इस बार बढ़ी है.

उन्होंने कहा कि अगर एयरलाइंस के टिकट को ओपन कर दिया जाये तो काफी राशि कम हो सकती है. एयर इंडिया यानि सरकारी हवाई यात्रा का खर्च निजी से अधिक पड़ता है. मुफ़्ती जाहिद हुसैन ने पत्रकारवार्ता के दौरान कहा कि जो हाजी इस बार हज यात्रा पर जाने वाले हैं, उनके लिए बड़ा मदरसा नूंह मरकज में ट्रेनिंग कैम्प आगामी 8 जुलाई को लगाया जा रहा है.

इस शिविर में हाजियों को हज के फजाइल की जानकारी उलेमाओं द्वारा दी जाएगी, ताकि हज यात्रा के दौरान किसी को कोई दिक्कत न हो. मुफ़्ती जाहिद हुसैन ने कहा खाने-पीने सहित तमाम सुविधा उस दिन सुबह 9 बजे से दोपहर बाद चार बजे तक हज संबंधी जानकारी दी जाएगी. उन्होंने ज्यादा से ज्यादा हाजियों से पहुंचने की अपील की गई है. हज यात्रा हर मुस्लिम का सपना होता है, ताकि अपने गुनाहों से तौबा कर साफ-सुथरी जिंदगी जी सके.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेवात से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 28, 2018, 5:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर