खूनी संघर्ष में घायल एडवोकेट नवीन की मौत, गुस्साए लोगों ने लगाया घंटों जाम

नूंह के उदाका गांव में पिछले दिनों हुए खूनी संघर्ष में घायल एडवोकेट नवीन यादव की मौत हो गई. इससे गुस्साए लोगों ने गुरुग्राम से लेकर सोहाना तक कई घंटों तक जाम लगाया.

Kasim Khan | News18 Haryana
Updated: July 26, 2019, 12:48 PM IST
खूनी संघर्ष में घायल एडवोकेट नवीन की मौत, गुस्साए लोगों ने लगाया घंटों जाम
एडवोकेट नवीन की मौत के बाद लोगों ने मुआवजे के लिए किया सड़क जाम
Kasim Khan | News18 Haryana
Updated: July 26, 2019, 12:48 PM IST
नूंह के उदाका गांव में दो पक्षों में हुए खूनी संघर्ष में घायल वकील नवीन यादव ने गुरुवार को दम तोड़ दिया. नवीन की मौत की खबर गांव उदाका से गुरुग्राम, सोहना, नूंह की कोर्ट तक पहुंची तो वकीलों ने कामकाज बंद कर गुरुग्राम से सोहना तक सड़क को जाम कर दिया. जाम से गुरुग्राम-अलवर मार्ग, पलवल- तावडू मार्ग पर कई घंटे वाहनों के पहिए थम गए. जाम की वजह से लोगों को भारी परेशानी हुई तो गुरुग्राम-नूंह पुलिस के आला अधिकारी सोहना चौक पर जुटने लगे. गुरुग्राम के सेशन जज से लेकर नूंह के एसडीएम प्रदीप अहलावत तक मौके पर पहुंच गए.

एक करोड़ मुआवजे की मांग, फौरी राहत के तौर पर मिले 5 लाख

जाम लगे रहे लोगों ने मांग की कि नवीन के परिजनों को 1 करोड़ रुपए मुआवजा दिया जाए, दोनों बच्चों की पढ़ाई की व्यवस्था सरकार करे, परिवार को सुरक्षा मुहैया कराई जाए , गुरुग्राम फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले सुनवाई हो और दोषियों को सख्त सजा दिलाई जाए. जाम खुलवाने पहुंचे एसडीएम प्रदीप अहलावत ने सीएम हरियाणा की तरफ से फौरी तौर पर 5 लाख रुपए की राहत देने की बात कही.

मौत की खबर सुनकर काम बंद कर वकीलों ने भी किया विरोध प्रदर्शन


एसएचओ का तबादला, आईओ हुआ सस्पेंड

साथ ही सरकार को पूरा केस भेजने के साथ-साथ रोजकामेव एसएचओ चंद्रभान का तबादला और आईओ हवलदार राजकुमार को सस्पेंड करने की बात भी कही. रोजका मेव थाने में अब तावडू के एसएचओ को लगाया गया है. पिछली 20 जुलाई से रेवाड़ी, पलवल, फरीदाबाद सहित कई जिलों की पुलिस को बुलाकर अलर्ट पर रखा हुआ है. गांव में हालात तनावपूर्ण हैं, लेकिन स्थिति नियंत्रण में है. दूसरे दिन भी करीब चार - पांच जिलों के करीब 500 जवान रोजका मेव थाना से लेकर उदाका गांव तक पैनी नजर बनाए हुए हैं.

बच्चों के झगड़े को निपटाने में गई जान
Loading...

गत 15 जुलाई को उदाका गांव में अख्तर और जमशेद के बच्चों के बीच झगड़ा हुआ, जिसमें बड़े भी कूद गए. उसी झगड़े के निपटारे के समय गत 19 जुलाई को पड़ोसी वकील नवीन यादव से अख्तर के परिवार की झड़प हो गई. झगड़े में नवीन यादव सहित कुल 6 लोग घायल हो गए , जिनमें नवीन की हालत नाजुक थी. गुरुग्राम के निजी अस्पताल में उसका इलाज चल रहा था. पुलिस ने विभिन्न धाराओं के तहत गत 20 जुलाई को मुकदमा दर्ज किया था.

सड़क जाम के कारण हजारो लोग घंटों फंसे रहे रास्ते में


अख्तर सहित तीन की हुई है गिरफ्तारी
नवीन के चाचा कुंदन की शिकायत पर पुलिस ने साजिश के तहत जानलेवा हमला करने वाले तीन महिलाओं सहित सात लोगों को नामजद किया है. पुलिस अब तक अख्तर, जैकम और साजिद कुल तीन लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. सरजीना, मकसूदन , रुखसार और शेकुल की पुलिस तलाश कर रही है. एसडीएम प्रदीप अहलावत ने कहा कि केस की जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया गया है. डीएसपी मुख्यालय इंद्रजीत सिंह को इंचार्ज बनाया गया है.

पहुंचे कई दलों के नेता 

विधायक तेजपाल तंवर सोहना, भाजपा नेता चौधरी, ताहिर हुसैन एडवोकेट, सुरेंद्र उर्फ़ पिंटू उजीना , सुरेंदर आर्य जिलाध्यक्ष भाजपा नूंह , रोहताश बेदी, सूरजपाल अम्मू , कुलभूषण भारद्वाज एडवोकेट के अलावा डीसीपी सुमेर सिंह यादव,  एसीपी सोहना दिनेश यादव, डीएसपी धर्मबीर सिंह तावडू, डीएसपी इद्रजीत सिंह नूंह सहित कई अधिकारीगण उपस्थित थे.

ये भी पढ़ें- सरकारी पाइप बेचने जा रहा ट्रक पकड़ा गया, जेई समेत 6 पर दर्ज
First published: July 26, 2019, 8:53 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...