लाइव टीवी

पूरी नहीं हुई दहेज की मांग तो गर्भवती महिला को लगा दी आग
Mewat News in Hindi

Kasim Khan | News18 Haryana
Updated: June 13, 2018, 6:02 PM IST
पूरी नहीं हुई दहेज की मांग तो गर्भवती महिला को लगा दी आग
अस्पताल में पीड़िता का चल रहा इलाज

सुसराल पक्ष के लोगों ने पीड़िता से 50 हजार रूपये की मांग करने लगे तो उसने पैसे लाने से मना कर दिया और कहा कि उसके माता पिता गरीब लोग है. इसके बाद उसे प्रताड़ित करना शुरू कर दिया गया.

  • Share this:
दहेज में 50 हजार रूपये और कार की मांग पूरी न होने पर ससुराल पक्ष के लोगों ने  एक विवाहिता  पर पेट्रोल छिड़ कर जलाकर मारने की कोशिश की. इसी दौरान उसकी तीन वर्षीय बेटी आलिया का पैर भी जल गया. पीड़ित महिला और उसकी बेटी का राजा हसन खां मेवाती मेडिकल कॉलेज  में इलाज चल रहा है.

पुलिस ने पीड़ित महिला के बयान पर पति, सास-ससुर, जेठ जिठानी और ननद  सहित दस लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है. पुलिस को दिए बयाना में पीड़ित महिला नजमा ने बताया कि जब से उसकी शादी हुई है तब से ससुराल वाले कभी खुशी से नहीं रहने दिया. बार-बार पैसों की मांग की गई. कई दिन पहले  उससे मायके से बीस हजार रूपये लाने के लिये कहा इस पर पीड़िता ने अपने पिता से बीस हजार रूपये लाकर दिये,  तो उसके बाद  भी दहेज लोभियो का मन नहीं भरा और लालच बढ़ता गया.

कुछ दिनों बाद सुसराल पक्ष के लोगों ने  पीड़िता से 50 हजार रूपये की मांग करने लगे तो उसने पैसे लाने से मना कर दिया और कहा कि उसके माता पिता गरीब  लोग है. इसके बाद उसे प्रताड़ित करना शुरू कर  दिया गया. सुसराल पक्ष के लोगों ने पैसे ना लाने पर बत्तर हालत करने की धमकी दी. इसके बाद  ससुराल पक्ष के लोगों ने पीड़िता के पिता के पास फोन मिलाकर कहा कि अपनी बेटी को ले जाओ, इसे तलाक दे देंगे.

पीड़ित महिला ने बताया कि 5 जून को करीब 10 बजे  रात में वो अपनी बेटी को शौच कराने के लिये घर से बहार आई थी. इतने में जब वो अंदर जाने लगी तो जेठ और देवर  ने उसे पकड़  लिया तथा सास और ननद ने उसके ऊपर पेट्रोल छिड़क दिया. इसके बाद पीड़िता के पति ने उसे तिल्ली दिखा दी. मौके पर पीडिता की जिठानी भी वहां मौजूद थी लेकिन किसी ने उसको बचाने की कोशिश नहीं की. कुछ देर बाद वो बेसुध हो गई.

पीड़िता ने बताया कि दहेज के लिये वो बार-बार वो कार के साथ-साथ लेपटॉप की मांग कि और कहा की उनका बेटा पढ़ा लिखा है, जबकि पीड़िता के पिता ने उसकी शादी में मोटरसाईकिल दी थी. पीड़ित महिला आग से काफी झुलस चुकी है. पीड़ित महिला करीब 9 माह की गर्भवती भी है . पीडिता का इलाज नल्हड के राजा हसन खां मेवाती मेडिकल कॉलेज मे चल रहा है. पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर धारा 498 ए, 323, 307 के तहत मामाला दर्ज कर कार्रवाई  शुरू कर दी है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेवात से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 13, 2018, 5:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर