सेटलमेंट योजना में पौने सात करोड़ रुपये की वसूली के साथ नूंह आया अव्वल
Mewat News in Hindi

सेटलमेंट योजना में पौने सात करोड़ रुपये की वसूली के साथ नूंह आया अव्वल
विभागीय उपलब्धि की जानकारी देते कार्यकारी अभियंता बिजली विभाग रामनिवास

देश में आर्थिक नजरिये से पिछड़े नूंह जिले की यह बड़ी उपलब्धि है. जिस जिले के लोगों पर अक्सर बिजली चोरी के आरोप लगते रहे हैं, उन्होंने ही विभाग की सोच बदलने का काम किया है.

  • Share this:
बिल सेटलमेंट स्कीम का लाभ उठाकर बिजली विभाग नूंह को इलाके की जनता ने प्रथम स्थान पर पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है. विभाग के अधिकारी इन नतीजों से बेहद उत्साहित हैं और जनता का आभार जताते हुए नहीं थक रहे हैं. देश में आर्थिक नजरिये से पिछड़े नूंह जिले की यह बड़ी उपलब्धि है. जिस जिले के लोगों पर अक्सर बिजली चोरी के आरोप लगते रहे हैं, उन्होंने ही विभाग की सोच बदलने का काम किया है. गुरुवार को अंतिम दिन बिल सेटलमेंट की रिकवरी अभी इन नतीजों में जुडी भी नहीं है फिर भी अब तक सेटलमेंट योजना में करीब पौने सात करोड़ रुपये विभाग को मिले तो करीब 49 करोड़ का सरचार्ज बिल भरने पर समाप्त कर दिया गया.

दिसंबर-जनवरी माह में प्रभावी ढंग से योजना पर काम कर कार्यकारी अभियंता रामनिवास और उनकी तमाम टीम के काम से चीफ इंजीनियर संजीव अरोड़ा से लेकर सीएमडी शत्रुजीत कपूर तक बेहद खुश हैं. बिल सेटलमेंट तो अक्टूबर माह में ही बिजली विभाग ने सूबे में लागू कर दी थी. स्टाफ- संसाधनों की कमी से जूझ रहे बिजली विभाग नूंह के अधिकारी-कर्मचारी उस समय सौभाग्य योजना को अमलीजामा पहनाने में जुटे हुए थे.गत दिसंबर माह में वे बिल सेटलमेंट स्कीम तो शिखर तक पहुंच गए.

विभाग के मुताबिक नूंह जिले में करीब 37 हजार से अधिक उपभोक्ता डिफाल्टर थे या बिल नहीं भर पा रहे हैं. सूबे की सरकार कारगर योजना लाई तो लोगों ने इस मौके को हाथ से नहीं जाने दिया. नूंह जिले में करीब 32 हजार से अधिक उपभोक्ताओं ने बिल सेटलमेंट योजना का लाभ उठाया. फिरोजपुर झिरका में सबसे बेहतर काम हुआ तो नूंह का कामकाज भी सराहनीय रहा. कार्यकारी अभियंता रामनिवास ने बताया कि जिले में करीब 83 करोड़ रुपये के बिजली बिल बकाया थे.



यह भी पढ़ें - सोनीपत गैंगरेप केस: बयान बदलने वाली छात्रा को कोर्ट ने सुनाई 3 साल की सजा
यह भी देखें - मौत का LIVE वीडियो! जिसे देख कांप जाएगी आपकी रूह..
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज