लाइव टीवी

सफाई कर्मचारियों के समर्थन में आए इनेलो-बसपा गठबंधन के नेता

Kasim Khan | News18 Haryana
Updated: May 21, 2018, 11:44 PM IST
सफाई कर्मचारियों के समर्थन में आए इनेलो-बसपा गठबंधन के नेता
सफाई कर्मचारियों के साथ नारे लगाते हुए चौधरी जाकिर हुसैन.

इनेलो विधायक चौधरी जाकिर हुसैन ने सोमवार को धरना स्थल पर पहुंचकर हड़ताली कर्मचारियों के सुर में सुर मिलाते हुए रविवार को की गई कर्मचारियों की गिरफ्तारी को गलत बताया.

  • Share this:
अपनी मांगों को लेकर पिछले 13 दिनों से नगर पालिका कार्यालय प्रांगण नूंह में हड़ताल पर बैठे सफाई-दमकल कर्मचारियों को इनेलो-बसपा गठबंधन के नेताओं के अलावा अन्य कर्मचारी नेताओं का सहयोग भी मिलने लगा है.

इनेलो विधायक चौधरी जाकिर हुसैन ने सोमवार को धरना स्थल पर पहुंचकर हड़ताली कर्मचारियों के सुर में सुर मिलाते हुए रविवार को की गई कर्मचारियों की गिरफ्तारी को गलत बताया. कर्मचारियों की गिरफ्तारी के समय रविवार को भी उन्होंने पहुंचकर सफाई कर्मचारियों के साथ गिरफ्तारी देने की बात पुलिस महकमे से कही थी.

सोमवार को बसपा के तीन कार्यकर्ता 24 घंटे की भूख हड़ताल पर भी बैठे. नेताओं और कर्मचारियों ने भाजपा सरकार के रवैये की निंदा की. सफाई-दमकल कर्मियों ने सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी भी की.

इनेलो विधायक और बसपा नेताओं ने कहा कि कर्मचारियों की मांग जायज है. अगर सरकार ने मांगों को नहीं माना तो हड़ताल लम्बी खिंच सकती है. हड़ताल से शहरों की सूरत बदल चुकी है. जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हैं और चारों तरफ कचरा ही कचरा नजर आ रहा है. रविवार को सफाई-दमकल एवं अन्य कर्मचारी नेताओं की गिरफ्तारी के बाद कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं और अधिकारियों ने एक-दो स्थानों से कूड़ा जरूर उठाया, लेकिन वह ऊंट के मुंह में जीरे के समान ही नजर आया.

हालांकि कांग्रेसी नेता और पूर्व मंत्री आफताब अहमद ने भी हड़ताली कर्मचारियों को रविवार को धरना स्थल पहुंचकर अपना समर्थन दिया था, लेकिन उसके कुछ देर बाद ही करीब 55 सफाई-दमकल कर्मचारियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. गिरफ्तारी के बाद कर्मचारियों के तेवर गर्म हैं और सरकार - प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर रहे हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेवात से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2018, 11:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...