बहू से रेप के बाद उसकी हत्‍या करने वाले चाचा ससुर को उम्रकैद

अपने भतीजे की पत्‍नी को मायके से ससुराल लाने के दौरान उसके साथ रेप करने और उसकी हत्‍या के दोषी चाचा ससुर को अदालत ने उम्रकैद और एक लाख रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है.

Kasim Khan | News18 Haryana
Updated: September 15, 2018, 11:51 PM IST
बहू से रेप के बाद उसकी हत्‍या करने वाले चाचा ससुर को उम्रकैद
महिला का शव मिलने के स्‍थान पर जांच करती पुलिस (फाइल फोटो).
Kasim Khan | News18 Haryana
Updated: September 15, 2018, 11:51 PM IST
हरियाणा में रेप के बाद हत्या करने के करीब दो साल पुराने मामले में नूंह (मेवात) की अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश कुमुद गुगनानी की अदालत ने शनिवार को मुबारिक उर्फ डूंडा को उम्रकैद एवं एक लाख रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई है. बचाव पक्ष के वकील डीसी गुप्ता ने काफी दलीलें दी, लेकिन सरकारी वकील जगमिंदर ने जमकर बहस की. आखिरकार अदालत ने मुबारिक को दोषी मानते हुए कठोर सजा सुनाई.

आपको बता दें कि 17 अक्टूबर 2016 को रीठट गांव से रात आठ बजे एक विवाहिता अपने चाचा ससुर मुबारिक के साथ अपनी ससुराल के लिए स्कार्पियो गाड़ी में बैठ कर मायके से रवाना हुई थी. उसी दौरान ससुर की नीयत में खोट आ गया. उस पर आरोप लगा कि महिला की रेप के बाद उसने बेरहमी से जान ले ली. रीठट गांव के जंगल में ही उसे मारकर फेंक दिया.

जैसे ही यह खबर ग्रामीणों को पता चली तो रीठट गांव के पंचों और सैकड़ों लोगों के साथ मृतका के परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर डीसी से मुलाकात की थी. ग्रामीणों के बढ़ते विरोध को देखते हुए नगीना पुलिस ने आरोपी चाचा ससुर मुबारिक उर्फ़ डुंडा को गिरफ्तार कर लिया. उसी समय से वह जेल में था.

इलाके के पूर्व मंत्री सहित कई बड़े नेताओं ने तत्कालीन डीसी एवं एसपी नूंह से मुलाकात कर जांच में तेजी लाने और दोषी को सजा दिलाने की मांग भी की थी. यह कांड इलाके में कई माह तक चर्चा का विषय रहा था.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर