• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • हरियाणा के नूंह में जबरन धर्मांतरण: गृहमंत्री अनिल विज बोले- अब STF करेगी मामले की जांच

हरियाणा के नूंह में जबरन धर्मांतरण: गृहमंत्री अनिल विज बोले- अब STF करेगी मामले की जांच

नूंह जबरन धर्मांतरण मामले में गृहमंत्री अनिल विज ने दिया बड़ा बयान. (ANI)

नूंह जबरन धर्मांतरण मामले में गृहमंत्री अनिल विज ने दिया बड़ा बयान. (ANI)

Nuh News: नूंह में हुए जबरन धर्म परिवर्तन (Nuh Religion Conversion Case) में हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने कहा कि मामले की तहकीकात के लिए स्पेशल टास्क फोर्स (STF) गठित कर दी गई है.

  • Share this:

    CHAMAN PALANIA

    मेवात. हरियाणा के नूंह में हुए जबरन धर्म परिवर्तन (Nuh Religion Conversion Case) के मामले की जांच और तेज होने वाली है. गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि नूंह में दर्ज जबरन धर्मांतरण मामले में आरोपी अबू बकर और उसके साथी सहजाद को पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर ली है. जबरन धर्मातंरण मामले की तहकीकात के लिए स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) गठित कर दी गई है. उन्होंने बताया कि रोजका मेव पुलिस थाना में मनोज नाम के व्यक्ति ने 21 अगस्त, 2021 को एफआईआर दर्ज कराई कि अबू बकर ने उसका जबरन धर्मातरंण करवाया है. इसी प्रकार, 22 अगस्त, 2021 को देवेन्द्र नामक व्यक्ति ने भी नूंह के पुलिस थाना सिटी में एफआईआर दर्ज कराई कि अबु वकर और उसके साथी द्वारा उसका भी जबरन धर्मातंरण कराया गया है.

    गृह मंत्री अनिल विज ने बताया कि ये दोनों ही मामले अब स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) को स्थानांतरित कर दिए गए हैं. उन्होंने बताया कि इन मामलों को लेकर स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) का गठन किया गया है जो इन मामलों व इससे जुडे़ मामलों की पूरी तहकीकात करेगी. उल्लेखनीय है कि सीआईडी और केन्द्रीय एंजेसियां भी इन मामलों में अपनी जांच कर रही हैं.

    जानें क्या है पूरा मामला
    दरअसल, नूंह के रहने वाले आजाद के बेटे देवेंद्र उर्फ लीलू ने शिकायत दर्ज कराई थी. पुलिस को दी गई शिकायत में देवेंद्र ने कहा था कि कुछ वर्ष पहले से परिवार से उसका मनमुटाव चल रहा था और इसके कारण वह मानसिक रूप से परेशान था. इसी बात का फायदा उठाकर धर्म परिवर्तन कराने वाला अबू बकर अपने कुछ साथियों के साथ उसके पास आया. उसने घरवालों के खिलाफ भड़का कर और पैसे का लालच देकर उसका धर्मांतरण करा दिया. आरोप है कि मार्च 2017 में वह दिल्ली में किसी जगह लेकर गया, वहां पर उसका धर्म परिवर्तन करवाया गया. अबू बकर पर आरोप है कि उसने उसे डराने और जान से मारने की धमकी देकर इस्लामिक जमात में भेज दिया. अबू बकर ने हिंदू धर्म, मूर्ति पूजा व हिंदू देवी-देवताओं के बारे में बहुत ही अपमानजनक बातें कहीं.

    ये भी पढ़ें: राजस्थान सिंडिकेट बैंक घोटाला: जयपुर की स्पेशल CBI कोर्ट में चार्जशीट पेश, 18 लोगों को माना दोषी 

    देवेंद्र ने पुलिस को दिए बयान में कहा था कि जमात के दौरान अबू बकर ने मेरे धर्मांतरण के कागजात बनवाए और मेरा नाम बदलकर मोहम्मद जैद रखवा दिया गया. मुझे जब अबू बकर ने जमात में भेजा तो उसने मेरे तीन नाबालिग बच्चों को भी जबरदस्ती अपने पास रख लिया. अबू बकर ने उनपर दबाव बनाकर उन्हें भी जबरन इस्लाम धर्म में लाने की कोशिश की. देवेंद्र ने पुलिस को दी गई शिकायत में कहा कि अबू बकर ही नेटवर्क का असली मास्टरमाइंड है, जो बेसहारा बच्चों को ढूंढ़कर उनको पैसे, जमीन-जायदाद, शादी की तैयारी का लालच देकर इस्लाम धर्म कबूल करवाता है. अबू बकर का कलीम सिद्दीकी नाम के व्यक्ति से संबंध है, वह ग्लोबल पीस सेंटर भी चलाता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज