एक बार खराब होने के बाद ट्रैफिक लाइट ठीक कराना भूल गया प्रशासन

बड़कली चौक पर लगी रेड लाइट जलने की बजाय नेताओं के होर्डिंग टांकने के काम आ रही है. इतना ही नहीं फ्रूट विक्रेताओं ने ट्रेफिक लाइटों को अपने कब्जे में ले लिया है.गुड़गांव-अलवर मार्ग सबसे बिजी मार्ग होने की वजह से इस पर सड़क हादसे भी ज्यादा होते हैं.

Qasim Khan | News18 Haryana
Updated: December 13, 2018, 8:51 PM IST
एक बार खराब होने के बाद ट्रैफिक लाइट ठीक कराना भूल गया प्रशासन
लाइट खराब होने से बिना ट्रैफिक नियम पालन के दौड़ते वाहनों के बीच पैदल यात्रियों की जान पर बन आती है
Qasim Khan | News18 Haryana
Updated: December 13, 2018, 8:51 PM IST
मेवात के जिला मुख्यालय नूंह स्थित हसन खान मेवाती चौक हो या मेवात के बड़कली चौक, फिरोजपुर झिरका शहर. यहां लाखों रुपये की लागत से ट्रैफिक लाइट तो जरूर लगीं लेकिन एक बार खराब होने के बाद प्रशासन उन्हें ठीक कराना भूल गया. लाइट खराब होने की वजह से कई सालों से ट्रेफिक नियमों का मखौल उड़ रहा है.

जिला मेवात के नूंह में बड़कली चौक पर लगी रेड लाइट जलने की बजाय नेताओं के होर्डिंग टांकने के काम आ रही है. इतना ही नहीं फ्रूट विक्रेताओं ने ट्रेफिक लाइटों को अपने कब्जे में ले लिया है.गुड़गांव-अलवर मार्ग सबसे बिजी मार्ग होने की वजह से इस पर सड़क हादसे भी ज्यादा होते हैं. रेड लाइट बंद होने की वजह से चालक अपनी मनमानी करते हैं और वाहनों को अनाप-शनाप रफ्तार से चलाते हैं.

इसके चलते रोजाना जाम लगा रहता है. इतना ही नहीं इस जाम में पुलिस वाहन भी फंसे रहते हैं. लोग हैरान व परेशान हैं कि पुलिस इस तरफ ध्यान क्यों नहीं दे रही. करीब पांच साल से पहले यह लाइट लगाई गईं थीं. यहां लाल ,पीली ,हरी कोई सी भी बत्ती नहीं जलती. हसन खान मेवाती चौक नूंह पर पुलिस के जवान व होमगार्ड के जवान जरूर खड़े रहकर वाहनों को इशारा करते रहते हैं लेकिन लाइट का कोई इस्तेमाल नहीं होने से इलाके की जनता परेशान है.

मेवाती चौक पर कई हादसे इसकी वजह से हो चुके हैं. मेवात जिले के आला अधिकारी इसी  गुड़गांव-अलवर मार्ग से रोजाना दफ्तर आते -जाते हैं लेकिन किसी का भी ध्यान इस और नहीं है. डीजीपी बीएस संधू के सामने पत्रकारों ने ट्रेफिक नियमों और लाइट के मामले को गत 23 जनवरी को प्रमुखता से उठाया तो उन्होंने तुरंत लाइटों को ठीक कराने के आदेश पुलिस विभाग को दे दिए.

लोगों को डीजीपी हरियाणा की बात के बाद ख़ुशी हुई कि अब नूंह, बड़कली, फिरोजपुर झिरका में होने वाले सड़क हादसों से लेकर रोजाना लगने वाले जाम से निजात मिलेगी. हद तो तब हो गई जब करीब 11 माह बाद भी नूंह पुलिस ट्रैफिक लाइट की समस्या को निपटाने में नाकाम रही.  ट्रैफिक एसएचओ कृष्ण लाल ने कहा कि विभाग के उच्चाधिकारियों को लाइट ठीक कराने के लिए कहा गया है. जल्द ही ट्रैफिक लाइट ठीक करवाई जाएंगी.

यह भी पढ़ें - अंबाला में छाया घना कोहरा, सड़कों पर विजिबिलिटी हुई कम

यह भी पढ़ें - कैप्टन अमरिंदर से मिले सिद्धू, पाकिस्तान से लाए स्पेशल तोहफा किया भेंट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेवात से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 13, 2018, 8:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...