नूंह: अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगर पालिका प्रशासन का विरोध, बैरंग लौटी टीम
Mewat News in Hindi

नूंह: अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगर पालिका प्रशासन का विरोध, बैरंग लौटी टीम
नूंह: अतिक्रमण हटाने पहुंचे नगर पालिका प्रशासन का विरोध, बैरंग लौटी टीम

नूंह शहर के मुख्य बाजार में पूरे लाव लश्कर के साथ निकले नगर पालिका प्रशासन ने कहीं पॉलीथिन रखने वाले दर्जनों दुकानदारों के चालान काटे, तो कहीं अतिक्रमण हटाने निकली टीम को विरोध का सामना करना पड़ा.

  • Share this:
हरियाणा के नूंह मेवात जिले में नगर पालिका नूंह प्रशासन का पूरा अमला बीते बुधवार को नूंह शहर के मुख्य बाजार में पूरे लाव लश्कर के साथ निकला. इस दौरान कहीं पॉलीथिन रखने वाले दर्जनों दुकानदारों के चालान काटे गए, तो कहीं अतिक्रमण हटाने निकली टीम को विरोध का सामना भी करना पड़ा.

नगर पालिका दफ्तर से चंद मीटर दूर सब्जी मंडी में ही टीम का विरोध इस कद्र हुआ कि टीम को पीछे हटना पड़ा. दुकानदारों ने कहा कि बिना किसी पूर्व नोटिस के किसी से जुर्माना वसूला जा रहा है. उन्होंने कहा कि प्रशासन की इस गुंडागर्दी को सहन नहीं किया जाएगा.

वहीं पॉलीथिन रखने वाले दुकानदारों ने कहा कि अगर पॉलीथिन को बैन करना है तो पहले उन फैक्ट्रियों पर पाबंदी लगाई जाए, जो पॉलीथिन बनाते हैं. हद तो तब हो गई जब काफी समय से नगर पालिका से नाराज चल रहे पार्षद पति और बीजेपी कार्यकर्ता थान सिंह दुकनदारों के पक्ष में खड़े दिखाई दिए.



इस दौरान दुकनदारों ने नगर पालिका की कार्रवाई का विरोध करते समय नारेबाजी भी की. इरादा तो शहर को अतिक्रमण मुक्त करना था, लेकिन चंद मिनट और चंद मीटर दूरी पर ही नगर पालिरा नूंह को मुंह की खानी पड़ी.
बहरहाल, शहर की यह समस्या पुरानी है और दिन प्रतिदिन विकराल रूप धारण करती जा रही है. जामा मस्जिद वाले रास्ते पर तो अतिक्रमण के चलते वाहन तो दूर पैदल चलना भी दूभर हो जाता है. फिलहाल, शहर को अतिक्रमण से मुक्ति कब मिलेगी, इसका किसी के पास कोई जवाब नहीं है.

ये भी पढ़ें:- मेवात: अलग-अलग सड़क हादसे में दो लोगों की मौत

ये भी पढ़ें:- मेवात में जमीन दिलाने के नाम पर लाखों की धोखाधड़ी, आरोपी फरार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज