Home /News /haryana /

हरियाणा: रेप पीड़ित नाबालिग हुई गर्भवती, आरोपियों के डर से परिवार ने छोड़ा गांव

हरियाणा: रेप पीड़ित नाबालिग हुई गर्भवती, आरोपियों के डर से परिवार ने छोड़ा गांव

नूंह मेवात में दुष्कर्म पीड़ित नाबालिग गर्भवती हो गई तो परिवार ने आरोपियों के डर से दूसरे गांव चले गए.

नूंह मेवात में दुष्कर्म पीड़ित नाबालिग गर्भवती हो गई तो परिवार ने आरोपियों के डर से दूसरे गांव चले गए.

Haryana rape case: लड़की के परिजनों ने पुलिस अधिकारियों से गुहार लगाई है कि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए. परिजनों ने मांग की है कि लड़की के पेट में जो बच्चा पल रहा है, उसके बारे में अंतिम निर्णय लिया जाए.

नूंह-मेवात. हरियाणा (Haryana) के नूंह मेवात जिले से सनसनीखेज खबर सामने आ रही है. पुनहाना उपमंडल (Punhana Sub-Division) के एक गांव में रेप पीड़िता नाबालिग (Rape Victim Minor) आठ महीने की गर्भवती (Pregnant) है. पुलिस ने अभी तक रेप के आरोपी एवं उसका साथ देने वाली महिला की गिरफ्तारी नहीं की है. कई महीने बीत जाने के बाद भी पीड़ित परिवार न्याय के लिए न केवल दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर है, बल्कि आरोपियों के डर से अपना गांव छोड़कर करीब 30 किलोमीटर दूर दूसरे गांव में शरण लेकर रहने को मजबूर है.

मेवात पुलिस उपरोक्त मामले में कार्रवाई करने के बजाए चुप्पी साधे हुए है. पीड़ित लड़की के परिजनों का कहना है कि उनकी लड़की गांव में ही एक दुकान से सब्जी लेने गई थी. उसी दौरान गांव की महिला मिसकीना ने उसे बहला-फुसला लिया और अपने घर ले गई. मिसकीना के घर पर आशिक पुत्र मेव खां पहले से ही मौजूद था. जिसने नाबालिग लड़की का उसकी मर्जी के खिलाफ दुष्कर्म किया. इसके बाद भी आरोपी लड़की को अकेली पाकर उसे अपनी हवस का शिकार बनाता रहा. जिसके चलते नाबालिग गर्भवती हो गई.

ऐसे खुला राज
मिली जानकारी के मुताबिक, लड़की के पेट में जब दर्द हुआ तो उसने गत 31 जुलाई 2021 को अपने परिवार वालों को इस बारे में बताया. परिवार के लोग जब उसे डॉक्टर के यहां इलाज के लिए लेकर पहुंचे तो डॉक्टर ने बताया कि लड़की गर्भवती है. इसके पेट में कम से कम 5 महीने का गर्भ पल रहा है. यह खबर सुनकर लड़की के परिजनों के पैरों तले से जमीन निकल गई. पीड़ित परिवार ने लड़के पक्ष के लोगों से मुलाकात कर जब उलाहना दिया तो लड़के पक्ष के लोगों ने उल्टा उन्हें ही धमकी दी. पीड़ित पक्ष का आरोप है की बलात्कार करने वाले युवक व उसका साथ देने वाली महिला ने परिजनों को धमकी दी कि अगर इसके बारे में किसी को बताया तो जान से मार दिया जाएगा. कुल मिलाकर जब गर्भ में पल रहे बच्चे की वजह से नाबालिग लड़की परेशान रहने लगी तो मामला सबके सामने आ गया.

5 अगस्त को दर्ज हो गया था मुकदमा
लड़की के परिजनों ने बिछोर थाने ने इस मामले की शिकायत दी, तो पुलिस ने आईपीसी की धारा और पोक्सो एक्ट के तहत गत 5 अगस्त को मुकदमा दर्ज कर लिया. जिसमें रेप के आरोपी आशिक एवं उसका साथ देने वाली मिसकीना पत्नी जुम्मा को नामजद कर लिया. मुकदमा दर्ज होने के बाद पीड़ित पक्ष, आरोपी पक्ष की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस अधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर काट रहा है. लेकिन अभी तक किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. पीड़ित लड़की के परिजनों का कहना है कि उन्हें अभी भी लड़के पक्ष के लोगों से जान माल का खतरा है, इसलिए वह गांव छोड़कर दूसरे गांव में रहने को मजबूर हैं.

कुछ माह बाद बच्चे को जन्म दे सकती है
लड़की के परिजनों ने पुलिस अधिकारियों से गुहार लगाई है कि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। इसके अलावा उन्हें यह चिंता भी सता रही है कि लड़की के पेट में जो बच्चा पल रहा है, उसमें अंतिम निर्णय लिया जाए. कुल मिलाकर पुलिस ने अगर इस मामले में सख्ती नहीं दिखाई और आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया तो लड़की कुछ माह बाद बच्चे को जन्म दे सकती है.

Tags: Haryana news, Haryana police, Mewat, Nuh News, Nuh Police, Rape Case

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर