लाइव टीवी

पुलिसकर्मी के मकान में नाबालिग के साथ रेप, 3 आरोपी गिरफ्तार

Kasim Khan | News18 Haryana
Updated: July 10, 2019, 10:36 AM IST
पुलिसकर्मी के मकान में नाबालिग के साथ रेप, 3 आरोपी गिरफ्तार
नाबालिग से रेप की वारदात को एक पुलिसकर्मी के बंद पड़े मकान में अंजाम दिया

आरोपियों ने नाबालिग से दुष्कर्म की वारदात को एक पुलिसकर्मी के बंद पड़े मकान में अंजाम दिया.

  • Share this:
नूंह में अनुसूचित जाति की 12 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया हैं. आरोपियों की पहचान इमरान उर्फ ढक्कन, मूली उर्फ हाकम व रिजवान के रूप में हुई है. पुलिस ने आरोपियों को मंगलवार नूंह कस्बे से गिरफ्तार किया. बुधवार को आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जाएगा. पुलिस ने आरोपियों की बाइक और पीड़िता की साइकिल बरामद कर ली है. आरोपियों के खिलाफ पोक्सो एक्ट, एससी-एसटी एक्ट, अपहरण, जान से मारने की धमकी सहित अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया है.

बता दें, कि रविवार सुबह करीब 6 बजे साइकिल पर घर से एक मकान में लस्सी लेने के लिए गई नाबालिग लड़की जब घर के लिए वापस लौट रही थी तो बाइक सवार दो लड़कों ने नाबालिग का अपहरण कर लिया. मुंह पर हाथ रख आंखों में कपड़ा बांधकर सड़क पर घुमाया. कई घंटे इधर-उधर घुमाते हुए शाम करीब पांच बजे एक मकान में ले जाकर आरोपियों ने कई घंटे दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया. रात करीब 9 बजे नाबालिग लड़की किसी तरह चंगुल से छूटकर अपने घर पहुंची और परिजनों को आपबीती बताई.

पुलिसकर्मी का मकान


पुलिसकर्मी के मकान में वारदात को दिया अंजाम

आरोपियों ने नाबालिग से दुष्कर्म की वारदात को एक पुलिसकर्मी के बंद पड़े मकान में अंजाम दिया. चुहीमल तालाब स्थित पुलिसकर्मी के मकान में कोई नहीं रहता. आरोपियों ने इसका फायदा उठाकर मकान में घुसकर नाबालिग लड़की को बंधक बनाकर दुष्कर्म किया. मंगलवार को डीएसपी इंद्रजीत व एसएचओ महेंद्र पुलिस बल के साथ वारदात स्थल की जांच करने पहुंचे.

पुलिस ने पीड़ित परिवार से कहा पहले तुम ढूंढो

नाबालिग लड़की के पिता की कई साल पहले मौत हो गई जबकि मां दूसरी जगह चली गई. पीड़िता अपनी दादी के साथ रह रही है. सुबह लड़की जब लस्सी लेकर काफी देर तक नहीं पहुंची तो परिजनों ने गुम होने की सुबह करीब 10 बजे पुलिस चौकी जाकर शिकायत दी पीड़ित परिवार का आरोप है कि पुलिस को सूचना व शिकायत देने के बाद पुलिसकर्मियों ने आश्वासन देने के बजाए खुद ढूंढने की बात कहकर टरका दिया. पुलिसकर्मियों ने कहा कि पहले तुम ढूंढो हम बाद में ढूंढेंगे.
Loading...

पुलिस की लापरवाही पीड़िता पर पड़ी भारी

आखिरकार पुलिस की लापरवाही पीड़िता के जीवन पर भारी पड़ गई. अगर स्थानीय पुलिस मामले को गंभीरता से लेती और तुरंत लड़की को ढूंढने की कोशिश करती तो मासूम दरिंदगी का शिकार होने से बच जाती, लेकिन पुलिस ने इस मामले को हलके में लिया. परिजनों के बार-बार गुहार लगाने के बाद पुलिस ने रविवार शाम करीब 5 बजे गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज किया.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेवात से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 10, 2019, 10:33 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...