ओवर टाइम बंद करने से रोडवेज कर्मी से लेकर यात्री परेशान, दोपहर बाद बसों का टोटा
Mewat News in Hindi

ओवर टाइम बंद करने से रोडवेज कर्मी से लेकर यात्री परेशान, दोपहर बाद बसों का टोटा
हरियाणा रोडवेज

रोडवेज कर्मी ही नहीं यात्री भी बसों के ओवर टाइम बंद करने से इन दिनों परेशान हैं. बसों और स्टाफ की कमी के कारण 2 बजे के बाद सड़क पर कम ही रोडवेज की बसें दिखाई पड़ती हैं, जिससे दैनिक यात्री खासकर परेशान हैं.

  • Share this:
हरियाणा रोडवेज की हड़ताल भले ही सरकार ने जैसे-तैसे खत्म करा दी हो, लेकिन कर्मचारी अभी भी सरकार और परिवहन विभाग की नीतियों से परेशान हैं. कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर दो दिवसीय भूख हड़ताल करने जा रहे हैं. इतना ही नहीं उसके बाद सीएम सिटी करनाल में प्रदेश स्तरीय रैली करने की योजना है.

रोडवेज कर्मी ही नहीं यात्री भी बसों के ओवर टाइम बंद करने से इन दिनों परेशान हैं. बसों और स्टाफ की कमी के कारण 2 बजे के बाद सड़क पर कम ही रोडवेज की बसें दिखाई पड़ती हैं, जिससे दैनिक यात्री खासकर परेशान हैं.

नशे में धुत पुलिसकर्मी 'बुलेट' बाइक से कई बार गिरा, VIDEO वायरल



रोडवेज यूनियन नेता इक़बाल ने बताया कि सरकार विभाग को खत्म करना चाहती है, बेचना चाहती है. सरकार घाटे में लाने की हरसंभव कोशिश कर रही है, ताकि विभाग को खत्म कर दिया जाये. नूंह डिपो में पहले रोजाना 8-10 लाख रुपये रोजाना इनकम होती थी, लेकिन ओवर टाइम बंद होने से साढ़े तीन-चार लाख रुपये की आमदनी होती है.
67 साल बाद हक में आया फैसला, किसान का हो गया नेशनल हाईवे

आधे से ज्यादा घाटा विभाग को प्रतिदिन कर्मचारी विरोधी फैसले से उठाना पड़ रहा है. कर्मचारी अब महज आठ घंटे की डयूटी करता है, जब डयूटी खत्म हो जाती है, तो बस वहीं छोड़ दी जाती है. यात्री भी परेशान हो जाते हैं. कर्मचारी करनाल की रैली में कोई बड़ा एलान कर सकते हैं. कर्मचारियों का कहना है कि हम विभाग को नुकसान से उभारना चाहते हैं , लेकिन सरकार नहीं चाहती. यूनियन बेहद नाराज है , कोई भी फैसला कर्मचारी लेने को मजबूर हो सकता है. आगामी 13-14 दिसंबर को 24 घंटे की भूख हड़ताल हर जिला मुख्यालय पर रोडवेज कर्मचारी करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading