पढ़ाई की कीमत समझकर शादी के दिन पेपर देने पहुंची दुल्हन

परीक्षा देने पहुंची सानिया
परीक्षा देने पहुंची सानिया

सानिया ने ये साबित कर दिखाया कि उसको शादी (Marriage) से ज्यादा अपनी पढ़ाई (Study) से प्यार है. सानिया ने डबल माइंड से जैसे तैसे अपनी परीक्षा पूरी की और फिर अपने परिवार के बीच शादी की रस्मों में शामिल होने घर पहुंच गई.

  • Share this:
नूंह.  शादी का दिन था, घर पर पूरी तरह खुशियों का माहौल था. बारात भी दुल्हन के आंगन पर पहुंच चुकी थी. लेकिन जिस लडक़ी की शादी होने जा रही थी, वह अपनी शादी की सभी रस्मों को तोडक़र परीक्षा दे रही थी. ये कहानी नहीं बल्कि हकीकत है. नूंह जिले के पिनगवां ब्लॉक के गांव मल्हाका की रहने वाली सानिया ने शादी (Marriage) का मंडप छोड़कर परीक्षा केंद्र का रुख किया. जिसने ना तो बारात की चिंता की और ना शादी की. सानिया के मन में परीक्षा (Examination) की चिंता कुछ इस कदर थी कि वह अपनी शादी की सभी रस्मों को तोडक़र परीक्षा देने चली आई.

हुआ यूं गुरुवार का दिन था, दसवीं कक्षा का अंग्रेजी का पेपर था. सभी छात्र - छात्राओं के मन में बस केवल एक ही सवाल था कि उनकी परीक्षा कैसी होगी. लेकिन इस बीच पिनगवां कस्बे के आईकेएम पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल परीक्षा केंद्र में सानिया नाम की एक ऐसी बेटी भी परीक्षा दे रही थी, जिसके मन में जहां पेपर की चिंता थी वहीं दूसरी तरफ दूल्हा बारात लेकर उनके घर पहुंच चुका था.

परिवार के लोग शादी की तैयारियों में थे मसगूल



परिवार के सभी लोग शादी की तैयारियों में मसगूल थे, तो बाराती भी अपनी मस्ती में मस्त थे. लेकिन परीक्षा में बैठी सानिया ने ये साबित कर दिखाया कि उसको शादी से ज्यादा अपनी पढ़ाई से प्यार है. सानिया ने डबल माइंड से जैसे तैसे अपनी परीक्षा पूरी की और फिर अपने परिवार के बीच शादी की रस्मों में शामिल होने घर पहुंच गई.
परीक्षा देने के बाद की शादी


पेपर देने के बाद घऱ पहुंची सानिया

जब सानिया परीक्षा देकर घर पहुंची तो परिवार के लोग खुशी से फूले ना समाए और सानिया को खुशी-खुशी अपनी रीति रिवाज के अनुसार विदा कर दिया. ऐसी सोच की बेटियों की वजह से शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़ा मेवात पिछड़ेपन के कलंक को जल्द धोने में कामयाब होगा. ऐसी बेटियों को समाज व सरकार को सम्मान देना चाहिए, ताकि लड़कियों की साक्षरता दर को बढ़ावा मिल सके.

ये भी पढ़ें- हरियाणा में Corona Virus की दहशत, सभी कॉलेज और यूनिवर्सिटी 31 मार्च तक बंद

ये भी पढ़ें- राजनीति में रौबदार अनिल विज को पसंद है 'ढिशुम-ढिशुम'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज