एनसीआर में रहने वाले करोड़पतियों की पहली पसंद है चंदेनी के गेहूं

देश का किसान जहां भाव और गेंहू को मंडियों में बेचने के लिए खासी परेशानी उठाता है वहीं चंदेनी गांव का गेहूं कटने से पहले ही खरीदने वालों की कमी नहीं रहती.

Qasim Khan | News18 Haryana
Updated: March 16, 2019, 2:12 PM IST
एनसीआर में रहने वाले करोड़पतियों की पहली पसंद है चंदेनी के गेहूं
मेवात क्षेत्र के चंदेनी गांव के खेतों में गेहूं की लहलहाती फसल
Qasim Khan | News18 Haryana
Updated: March 16, 2019, 2:12 PM IST
मेवात जिले के वैसे तो आधा दर्जन से अधिक गांव की हजारों एकड़ भूमि में देशी गेहूं की एक खास प्रजाति 306 उगाई जाती है लेकिन चंदेनी गांव की सोना उगलने वाली भूमि का देशी गेहूं का पूरे हरियाणा में कोई जवाब नहीं है. गुणवत्ता के साथ बिना खाद तथा बरसात के भरोसे ही यहां की भूमि देशी गेंहू पैदा कर रही है. दरअसल झीलनुमा सैकड़ों एकड़ चंदेनी गांव की भूमि में अरावली पर्वत से बरसात का पानी बहकर इस आकर रुकता है. घासेड़ा, रिठोड़ा इत्यादि गांव में भी इसी पानी से बुवाई होती है. जब पानी सूखने लगता है तब बुवाई होने के बाद बिना सिंचाई तेजी से गेंहू बढ़ता है.

एनसीआर में रहने वाले करोड़पतियों का चंदेनी गांव का गेंहू पहली पसंद है. आम गेहूं से इसके  दाम भी दो गुने हैं लेकिन एक बार खाने के बाद कद्रदानों को बस चंदेनी गांव के गेहूं का स्वाद ऐसा भा जाता है कि मेवात में नौकरी करने वाले अधिकारी, कर्मचारी चंडीगढ़ तक यहीं से देशी गेंहू मंगवाते हैं. चंदेनी गांव के इस गेंहू की फसल को इसल बार सिर्फ नहर का पानी भी नसीब हुआ है. इससे देशी गेहूं की इस किस्म के अच्छे उत्पादन की आस जगी है.

देश का किसान जहां भाव और गेंहू को मंडियों में बेचने के लिए खासी परेशानी उठाता है वहीं चंदेनी गांव का गेहूं कटने से पहले ही खरीदने वालों की कमी नहीं रहती. दाम भी मुहं मांगे मिलते हैं. खास बात यह है कि इस गेहूं की बिना घी के भी रोटी मुलायम, सफ़ेद और चमकदार रहती है. ठंडी रोटी को भी बगैर दांत यानि उम्रदराज व्यक्ति भी आसानी से खा सकता है. कृषि विशेषज्ञ भी मानते हैं कि चंदेनी के गेंहू का गुणवत्ता और क्वालिटी में कोई मुकाबला नहीं है.




यह भी देखें - VIDEO : नकल कराने से रोका को पुलिसकर्मी की कर दी पिटाई

यह भी देखें - बीजेपी विधायक के सीएम के शो से पहले सड़कों पर गंगाजल छिड़काव को कांग्रेस ने बनाया मुद्दा
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...