छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज करने पर पीड़ित परिवार ने बच्चों के साथ सचिवालय के बाहर दिया धरना
Mewat News in Hindi

छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज करने पर पीड़ित परिवार ने बच्चों के साथ सचिवालय के बाहर दिया धरना
नूंह में सचिवालय के बाहर धरने पर बैठा परिवार

पीड़ित परिवार अपने छोटे बच्चों व परिवार की महिलाओं के साथ बैठकर पुलिस की कार्यशैली से खफा होकर इंसाफ की गुहार लगाने को सोमवार से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गया

  • Share this:
नूंह. पीड़ित पक्ष के खिलाफ छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज (Case Registered) करने पर पीड़ित परिवार सोमवार को जिला सचिवालय (Secretariat) नूंह के बाहर धरने पर बैठ गया. पीड़ित परिवार ने कहा कि जब तक उन्हें इंसाफ नहीं मिलेगा धरना जारी रहेगा. लंबे समय से पुलिस प्रशासन  से इंसाफ की गुहार लगाई जा रही है, लेकिन पुलिस प्रशासन द्वारा मामले को अनसुना करने पर परिवार धरने पर बैठने को मजबूर हो गया.

पीड़ित परिवार अपने छोटे बच्चों व परिवार की महिलाओं के साथ बैठकर पुलिस की कार्यशैली से खफा होकर इंसाफ की गुहार लगाने को सोमवार से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गया. बता दें, कि नूंह शहर के एक वार्ड में 7 अक्टूबर को पानी की पाइपलाइन में अवैध कनेक्शन को लेकर झगड़ा हो गया.

सचिवालय के बाहर धरने पर बैठे



झगड़े में पीड़ित परिवार द्वारा 15 आरोपियों के खिलाफ 12 अक्टूबर को मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया गया, लेकिन इसके बाद आरोपी पक्ष की ओर से भी पीड़ित परिवार के 19 वर्षीय बेटे पर छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कराया गया. छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज होने पर पीड़ित परिवार सोमवार से जिला सचिवालय के बाहर धरने पर बैठ गया.
यह भी पढ़ें- वादे के पक्‍के निकले बीरेंद्र सिंह, राज्‍यसभा से दिया इस्तीफा, चुनावी राजनीति से संन्‍यास का भी ऐलान

यह भी पढ़ें- पानीपत में सड़क हादसे में 2 बुजुर्गों की मौत, 10 घायल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज