लाइव टीवी

ओएलएक्स के जरिये लोगों को लूटने के दो आरोपी गिरफ्तार

Kasim Khan | ETV Haryana/HP
Updated: March 27, 2018, 5:47 PM IST
ओएलएक्स के जरिये लोगों को लूटने के दो आरोपी गिरफ्तार
पुलिस की गिरफ्त में दोनों आरोपी.

मेवात पुलिस ने दो ऐसे बदमाशों को गिरफ्तार किया है, जो ओएलएक्‍स पर सस्‍ते सामान का विज्ञापन देकर लोगों को लूट का शिकार बनाते थे. इनमें से एक इस तरह की लूट करने वाले गिरोह का मास्‍टर माइंड है.

  • Share this:
ओएलएक्स पर सस्ती गाड़ियों और अन्य सस्ते सामान का विज्ञापन देकर ग्राहकों को जाल में फंसाकर लूटने वाले गिरोह के मास्टरमाइंड को सीआईए पुलिस नूंह की टीम ने दबोचने में सफलता प्राप्त कर ली है. उसकी उम्र करीब 20 साल है, लेकिन इस छोटी सी उम्र में वह अपराध की दुनिया का बड़ा नाम बन चुका है. नूंह (मेवात) जिले में ही उस पर लूट-डकैती के करीब 14 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं.

गिरफ्तार आरोपी आजाद तिरवाड़ा गांव का रहने वाला है. उसे ग्राहकों को ऑनलाइन सस्ते विज्ञापन देकर जाल में फंसाने की महारथ हासिल है. गिरोह का सरगना शौकीन निवासी तिरवाड़ा है. इस गिरोह में 8-10 अन्य बदमाश भी शामिल हैं. पकड़े गए बदमाश आजाद से सीआईए नूंह ने एक लोडेड देसी कट्टा जब्‍त किया है. आरोपी को दो दिन के रिमांड पर लेकर उससे पूछताछ जारी है.

सीआईए इंचार्ज शमसुद्दीन ने बताया कि आजाद को जयसिंहपुर गांव के समीप गुड़गांव कैनाल से गिरफ्तार किया गया. आजाद अपनी ससुराल आया था. उसी दौरान सीआईए को उसकी भनक लग गई. कई बार पुलिस पर सीधा हमला कर फरार होने में कामयाब होने वाला आजाद इस बार पुलिस के हत्थे चढ़ गया.

आजाद ने दो बार बिछोर थाना इंचार्ज रहे जयराम और मौजूदा एसएचओ रामचंद्र पर सीधा हमला बोला है, जिसमें पुलिस अधिकारी गोली से बाल-बाल बच गए. आजाद पर डकैती के 10 केस दर्ज हैं. ज्यादातर मुकदमे बिछोर थाने में दर्ज हैं. नूंह पुलिस ने बदमाश की गिरफ्तारी की सूचना पड़ोसी राज्य राजस्थान-यूपी के साथ लगती सीमाओं के थानों में इत्तला दे दी है. पुलिस को आशंका है कि बदमाश ने पड़ोसी राज्यों में भी वारदातों को अंजाम दिया होगा.

आजाद ने अपराध की दुनिया में वर्ष 2016 में कदम रखा था. उसके बाद वह लगातार वारदातों को साथियों के साथ मिलकर अंजाम दे रहा था. मास्टर माइंड आजाद ऑनलाइन ओएलएक्स के जरिये गुजरात, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, बिहार इत्यादि दूरदराज के लोगों को ठगी का शिकार बनाता था, ताकि पकड़े जाने पर शिकायतकर्ता की कमजोर पैरवी के चलते अदालत से उसे बरी किया जा सके. गिरोह नए-नए तरीके लोगों को ठगने के लिए बनाता था. खास बात तो यह है कि आजाद बाइक लूट के एक मामले में पीओ चल रहा है.

दूसरा आरोपी महज 19 साल का
सीआईए पुलिस नूंह ने ओएलएक्स पर सस्ती गाड़ियों के विज्ञापन देकर लोगों को लूटने वाले मुस्तकीम निवासी बीवां को स्कॉर्पियों गाड़ी के साथ दबोचने में सफलता प्राप्त की है. आरोपी की उम्र महज 19 साल है, लेकिन वह लूट और चोरी की दो वारदातों को अंजाम दे चुका है. पुलिस के मुताबिक मुस्तकीम ने गत 3 जनवरी को रोजका मेव थाना क्षेत्र अंतर्गत इलाके से स्कॉर्पियों खरीदने के लिए आए लोगों से साढ़े चार लाख रुपए की लूट की थी.
Loading...

पुलिस को उसी समय से आरोपी की तलाश थी और अंतत: सुडाका गांव के वाटर टैंक के समीप से उसे धरदबोचा गया. पुलिस को अभी मुस्तकीम के अन्य साथियों की तलाश है. सीआईए इंचार्ज शमसुद्दीन ने उम्मीद जताई कि इनकी गिरफ्तारी के बाद ओएलएक्स के नाम पर हो रही ठगी की वारदातों में कमी आएगी. बाकी बचे आरोपियों को दबोचने के लिए भी सीआईए नूंह पुलिस ने पूरी तैयारी कर ली है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए मेवात से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 6, 2018, 4:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...