नूह मेवात : जमीन विवाद में खूनी संघर्ष, घायलों को ट्रैक्टर से रौंदा, 2 की हालत नाजुक

खूनी-संघर्ष के बाद ग्रामीणों से घिरे जख्मी लोग.

खूनी-संघर्ष के बाद ग्रामीणों से घिरे जख्मी लोग.

पुलिस में दर्ज कराए गए मामले के मुताबिक, जमीन विवाद में एक गुट ने दूसरे गुट पर लाठी और फरसे से हमला किया. उसके बाद जख्मी लोगों पर ट्रैक्टर चढ़ा दिया. फिलहाल किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 8:38 PM IST
  • Share this:
नूह मेवात. पिनगवां थाना क्षेत्र के फलेंडी गांव में दो गुटों के बीच जमीन के विवाद (land dispute) को लेकर खून-खराबा (violent conflict) हो गया. एक पक्ष के लोगों ने लाठी, डंडा, फरसा इत्यादि से लैस होकर दूसरे पक्ष के लोगों को पहले तो बुरी तरह मारा-पीटा और बाद में ट्रैक्टर (tractor) से कुचल डाला. आरोपियों ने जाते जाते महिलाओं की सोने की हंसली भी छीन ली और फरार हो गए. सात घायलों में से दो की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है.

सात में से दो घायलों की हालत नाजुक

पुनहाना-नगीना मार्ग पर शाहचोखा गांव के पास हुए इस झगड़े के वक्त घटनास्थल पर भारी भीड़ जुटी हुई थी. झगड़े की सूचना पाकर पिनगवां पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को इलाज के लिए पुनहाना सरकारी अस्पताल और नल्हड़ मेडिकल कॉलेज में भिजवाया. पुलिस के पहुंचने के बाद ही जैसे-तैसे मामला शांत हो पाया. घायलों में कई महिलाएं भी शामिल हैं. सात घायलों में से दो की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है.

घायलों पर ट्रैक्टर चढ़ाया
इस मामले में फलेंडी के रहनेवाले मुहर खां के बेटे रफीक ने पिनगवां पुलिस को दी गई शिकायत में कहा कि जमीन के विवाद को लेकर युसूफ, जुबेर, अताउल्लाह, साहिब और यूनुस ने लाठी और फरसे से इकबाल, रेशमी, खातूनी, जुनैद, हारूनी और साइना को पीटा और उसके बाद इन अभियुक्तों ने इनपर ट्रैक्टर तक चढ़ा दिया गया. इस हमले में 7 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. जैसे-तैसे लोगों को बचाया गया. शिकायतकर्ता का आरोप है कि आरोपियों ने जाते समय महिलाओं की सोने की हंसली भी खींच ली. जाते वक्त आरोपियों ने इन पीड़ितों को जान से मारने की धमकी भी दी.

अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं

फलेंडी गांव में हुए इस खूनी संघर्ष में पिनगवां पुलिस ने युसूफ, जुबेर, अताउल्ला, साहिब, यूनुस सहित तकरीबन 12 लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया. अभी तक इस मामले में किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है. पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज