निकिता केस: ‘20 साल तक पालने के बाद कोई बेटियों की हत्या कर देगा तो कोई क्यों बेटिया पैदा करें’

मृतक निकिता का फोटो.
मृतक निकिता का फोटो.

दिल्ली से सटे फरीदाबाद (Faridabad) के बल्लभगढ़ में कॉलेज छात्रा की दिनदहाड़े हुई हत्या (Ballabhgarh College Girl Murder) को लेकर हंगामा मचा हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2020, 1:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणा (Haryana) के निकिता केस ने तूल पकड़ लिया है. हालांकि पुलिस (Police) आरोपियों को पकड़ने का दावा कर रही है. लेकिन घर वालों का रो-रोकर बुरा हाल है. सबसे ज़्यादा खराब हालत निकिता की मां की है. मां ने सरकार (Government) से मांग की है कि जैसे उनकी बेटी को मारा गया है, इसी तरह से पुलिस आरोपियों का भी एनकाउंटर (Encounter) करे. वहीं उनका कहना है कि अगर इसी तरह 20 साल तक बेटियोंं (Daughters) को पालने के बाद कोई उनकी कोई हत्या कर देगा तो फिर कोई बेटी क्यों पैदा करना चाहेगा. लोग बेटी पैदा होते ही मार देंगे. मृतका की मां बार-बार आरोपियों (Accused) के एनकाउंटर की माँग कर रही है.

सरकार बोली- एसआईटी जांच कर रही है, किसी को नहीं बख्शेंगे

पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है. पकड़ा गया रेहान नूंह जिले का रहने वाला है. मंगलवार को पुलिस ने दोनों आरोपियों तौसीफ और रेहान को कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें दो दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है. मंगलवार को इस पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.



लोन मोरेटोरियम: चश्मा बेचने वाले एक शख्स ने 16 करोड़ लोगों को कराया 6500 करोड़ रुपये का फायदा
वहीं राज्य के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा है कि घटना में शामिल दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. साथ ही पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल हथियार को भी बरामद कर लिया है. उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच एसीपी क्राइम अनिल कुमार की अध्यक्षता में एसआईटी की टीम कर रही है. विज ने कहा कि हमारी कोशिश होगी कि मामले की जल्दी जांच करवाकर पीड़ित परिवार को इंसाफ दिलाया जाए.

सोमवार को कॉलेज के बाहर छात्रा को सरेआम मार दी थी गोली

हरियाणा में फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में सोमवार को अग्रवाल कॉलेज के बाहर 21 वर्षीय युवती की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मृतक युवती का नाम निकिता है और वो परीक्षा देकर कॉलेज से बाहर निकल रही थी. इस दौरान बाहर सफेद रंग की आई-20 कार में मौजूद दो युवकों ने उसे जबरन किडनैप कर कार में बिठाने की कोशिश की.



इस पर निकिता ने शोर मचाया और वहां से भागी तो आरोपी तौसीफ ने पीछा कर उसे नजदीक से गोली मार दी. गोली लगने से निकिता जमीन पर गिर पड़ी और उसकी मौत हो गई. निकिता के परिवारवालों का कहना है कि तौसीफ उससे धर्म परिवर्तन कर शादी करने का लगातार दबाव बना रहा था. लेकिन उनकी बेटी इससे इनकार कर रही थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज