डॉक्टर बनने का सपना देखने वाली नर्स ने कारोबारी से मांगी 1 करोड़ की रंगदारी

आरोपी नर्स ने अपने बॉयफ्रेंड की मदद से कारोबारी के बेटे का अपहरण करने की साजिश रची थी. लेकिन जब दोनों इसकी रेकी करने गए थे तो वो सादे कपड़ों में तैनात पुलिस के हत्थे चढ़ गए.

News18Hindi
Updated: July 12, 2019, 11:04 AM IST
डॉक्टर बनने का सपना देखने वाली नर्स ने कारोबारी से मांगी 1 करोड़ की रंगदारी
फिजा ने एक नामी नर्सिंग कॉलेज से कुछ दिन पहले कोर्स किया था. जिसके बाद उसके मन में डॉक्टर बनने की चाह उमड़ी लेकिन उसके पास एमबीबीएस करने के लिए उतने रुपये नहीं थे.
News18Hindi
Updated: July 12, 2019, 11:04 AM IST
हरियाणा में आपराधी बेखौफ हैं. वो जब चाहते हैं आपराधिक वारदातों को अंजाम देते हैं. अब दिल्ली से सटे गुरुग्राम (गुड़गांव) में डॉक्टर बनने की चाहत रखने वाली एक नर्स के कारोबारी से 1 करोड़ रुपये रंगदारी मांगने का मामला सामने आया है. नर्स ने इस साजिश को रचने में अपने बॉयफ्रेंड की मदद ली. पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है. नर्स की पहचान नसरीन उर्फ फिजा खान के रूप में हई है, जबकि उसका बॉयफ्रेंड मुस्तकीम खान दिल्ली का रहने वाला है.

बेटे के अपहरण की दी धमकी
फिजा खान 1 साल पहले कारोबारी के घर में नर्स का काम कर चुकी है. वो यहां कारोबारी की मां की देखभाल के लिए रखी गई थी. इस दौरान उसे यह पता चल गया कि परिवार काफी समृद्ध है. इसके बाद मन में डॉक्टर बनने का सपना पाले फिजा ने कारोबारी से रंगदारी मांगने की योजना बनाई. उसने इस काम में बॉयफ्रेंड मुस्तकीम को भी शामिल कर लिया. उसने मुस्तकीम से कारोबारी को फोन करवा कर उसके बेटे का अपहरण करने की धमकी दी. उसने कहा कि यदि उसे 1 करोड़ रुपये नहीं दिए गए तो उसके बेटे का अपहरण कर लिया जाएगा.

पैसे नहीं मिले तो करने जा रहे थे अपहरण

कारोबारी ने धमकी के बाद पुलिस में मामला दर्ज करवाया गया. इसके बाद कारोबारी के घर के आस-पास सादे कपड़ों में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया. धमकी भरे फोन कॉल के 3 दिन बीत जाने के बाद भी पैसे नहीं मिलने पर दोनों (फिजा खान-मुस्तकीम) ने बच्चे को अगवा करने का निर्णय लिया. इसके लिए जब वो रेकी करने निकले तो पुलिस ने दोनों को दबोच लिया. दोनों से पूछताछ की जा रही है. वारदात में इस्तेमाल किए गए फोन और सिमकार्ड को भी बरामद करने का प्रयास किया जा रहा है.

बॉयफ्रैंड को दिया था 20 लाख का लालच
आरोपी फिजा ने बताया कि मुस्तकीम को योजना में शामिल करने के लिए उसने उसे 20 लाख रुपये का लालच दिया था. उसने मुस्तकीम से कहा था कि यदि वो उसका साथ देगा तो 1 करोड़ में से 20 लाख रुपये उसे देगी. लालच में आकर जूस का ठेला लगाने वाले मुस्तकीम ने इस काम के लिए हामी भरी थी और उसने कारोबारी को फोन किया था.
Loading...

एमबीबीएस के लिए चाहिए थे पैसे
पुलिस के मुताबिक फिजा ने एक नामी नर्सिंग कॉलेज से कुछ दिन पहले कोर्स किया था. जिसके बाद उसके मन में डॉक्टर बनने की चाह उमड़ी लेकिन एमबीबीएस करने के लिए उसके पास उतने रुपये नहीं थे. कारोबारी के घर साल भर पहले काम करने के दौरान जब उसे पता चला कि वहां से वो रुपये ऐंठ सकती है. तो उसने परिवार से रंगदारी मांगने की योजना बनाई.

ये भी पढ़ेंः दिल्‍ली के ईएसआई अस्‍पताल के ऑपरेशन थिएटर में लगी आग
First published: July 12, 2019, 10:02 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...