होम /न्यूज /हरियाणा /

हरियाणा: ATM कार्ड बदलकर ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़, 3 सदस्य गिरफ्तार

हरियाणा: ATM कार्ड बदलकर ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़, 3 सदस्य गिरफ्तार

आरोपियों के कब्जे से 91 एटीएम कार्ड व एक पेटीएम स्वाइप मशीन बरामद हुई. पुलिस

आरोपियों के कब्जे से 91 एटीएम कार्ड व एक पेटीएम स्वाइप मशीन बरामद हुई. पुलिस

पुलिस ने जब आरोपियों की तलाशी ली तो आरोपियों के कब्जे से 91 एटीएम कार्ड व एक पेटीएम स्वाइप मशीन बरामद हुई. पुलिस के अनुसार आरोपियों की पहचान गांव घाघोट निवासी सलीम, गांव गोपीखेड़ा निवासी अब्बास और गांव सोफ़्ता निवासी राशिद के रूप में हुई है.

अधिक पढ़ें ...

पलवल. धोखाधड़ी करके लोगों का एटीएम कार्ड बदलकर उनके खाते से रुपये निकालने वाले गिरोह के 3 सदस्यों को पलवल पुलिस ने गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता हासिल की है. पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 91 एटीएम कार्ड व एक पेटीएम स्वाइप मशीन भी बरामद की है. पकड़े गए आरोपी हरियाणा, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश व दिल्ली में अब तक कई वारदातों को अंजाम दे चुके है.

पलवल अपराध जांच शाखा प्रभारी विश्व गौरव ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि जिला पुलिस अधीक्षक राजेश दुग्गल के दिशानिर्देश अनुसार उनकी टीम पलवल बस स्टैंड पर गश्त पर मौजूद थी. तभी उन्हें मुखबिर खास से सूचना प्राप्त हुई कि धोखाधड़ी करके एटीएम कार्ड बदलकर लोगों के खाते से रुपये निकालने वाले तीन आरोपी किठवाड़ी चौक पर खड़ी वैगनआर गाड़ी में बैठे हुए हैं. जोकि किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में है.

सूचना के आधार पर टीम ने मौके पर दबिश देकर गाड़ी सहित उक्त आरोपियों को काबू कर लिया. पुलिस ने जब आरोपियों की तलाशी ली तो आरोपियों के कब्जे से 91 एटीएम कार्ड व एक पेटीएम स्वाइप मशीन बरामद हुई. पुलिस के अनुसार आरोपियों की पहचान गांव घाघोट निवासी सलीम, गांव गोपीखेड़ा निवासी अब्बास और गांव सोफ़्ता निवासी राशिद के रूप में हुई है.

पुलिस का कहना है कि तीनों आरोपियों ने मिलकर गत 13 जुलाई को अलावलपुर चौक स्थित पंजाब नेशनल बैंक की एटीएम मशीन से रुपये निकालते समय कृष्णा कॉलोनी पलवल निवासी रणजीत सिंह नामक बुजुर्ग व्यक्ति का एटीएम कार्ड बदलकर उसके खाते से 80 हजार रुपये निकाल लिए थे. जिस संबंध में कैम्प थाने में मुकदमा भी दर्ज किया गया. पुलिस का कहना है कि गहन पूछताछ के लिए आरोपियों को अदालत में पेश करके रिमांड पर लिया जाएगा. रिमांड अवधि के दौरान आरोपियों से और भी कई खुलासे होने की संभावना है. आरोपी अब तक हरियाणा, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में कई वारदातों को अंजाम दे चुके हैं.

Tags: Crime News, Haryana news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर