Home /News /haryana /

हरियाणा पुलिस ने रणदीप सुरजेवाला और कुमारी सैलजा को हिरासत में लिया, ये है वजह

हरियाणा पुलिस ने रणदीप सुरजेवाला और कुमारी सैलजा को हिरासत में लिया, ये है वजह

पुलिस हिरासत में लिए गए नेताओं को पंचकूला पुलिस लाइन ले गई, जहां से कुछ देर बाद उन्हें छोड़ दिया गया. (फाइल फोटो)

पुलिस हिरासत में लिए गए नेताओं को पंचकूला पुलिस लाइन ले गई, जहां से कुछ देर बाद उन्हें छोड़ दिया गया. (फाइल फोटो)

Haryana News: कांग्रेस की हरियाणा इकाई की अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने पंचकूला में संवाददाताओं से कहा कि पुलिस ने नेताओं को हिरासत में लेने के कुछ देर बाद छोड़ दिया. कथित घोटाले पर प्रतिक्रिया देते हुए सैलजा ने कहा, ’’ हम शुरू से ही कहते रहे हैं कि शीर्ष पर बैठे लोगों के संरक्षण के बिना ऐसा घोटाला संभव नहीं है.

अधिक पढ़ें ...

    चंडीगढ़. हरियाणा के पंचकूला (Panchkula) में मंगलवार को पुलिस ने ’डेंटल सर्जन’ की भर्ती में कथित भ्रष्टाचार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) , कुमारी सैलजा और विवेक बंसल समेत अन्य पार्टी नेताओं को कुछ देर के लिए हिरासत (Custody) में लिया. कांग्रेस नेताओं ने भर्ती में घोटाले का आरोप लगाते हुए हरियाणा लोक सेवा आयोग के कार्यालय के घेराव का प्रयास किया, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया. पुलिस हिरासत में लिए गए नेताओं को पंचकूला पुलिस लाइन ले गई, जहां से कुछ देर बाद उन्हें छोड़ दिया गया.

    कांग्रेस की हरियाणा इकाई की अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने पंचकूला में संवाददाताओं से कहा कि पुलिस ने नेताओं को हिरासत में लेने के कुछ देर बाद छोड़ दिया. कथित घोटाले पर प्रतिक्रिया देते हुए सैलजा ने कहा, ’’ हम शुरू से ही कहते रहे हैं कि शीर्ष पर बैठे लोगों के संरक्षण के बिना ऐसा घोटाला संभव नहीं है. इसलिए, हम उच्च न्यायालय की निगरानी में स्वतंत्र जांच की मांग कर रहे हैं ताकि सच सामने आ सके.’’ हरियाणा मामलों के पार्टी प्रभारी बंसल ने आरोप लगाया कि राज्य की भाजपा-जजपा सरकार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है.

    सरकार को भी चूना लगाया जा रहा था
    वहीं, कल खबर सामने आई थी कि एक तरफ किसान खाद की कम से जूझ रहे थे तो वहीं दूसरी और सहकारी समिति (Co-Operative Committee) में बड़े पैमाने पर खाद घोटाला (Fertilizer Scam) कर सरकार को भी चूना लगाया जा रहा था. मामला तब सामने आया जब इस सहकारी समिति में ऑडिट हुआ. ऑडिट के दौरान पता चला कि ये कोई छोटा- मोटा नहीं बल्कि करोड़ो का घोटाला है. अब इस मामले में सहकारी समितियों के असिस्टेंट रजिस्ट्रार (Assistant Registrar) की शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी करने के आरोप में दो लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 और 409 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

    उसकी राशि खाते में जमा ही नहीं करवाई गई
    जानकारी के मुताबिक, मामला फतेहाबाद की दि हांसपुर पैक्स से जुड़ा है. पुलिस को दी शिकायत में बताया गया कि 31 मार्च 2020 को इस पैक्स के अंतर्गत आने वाले बिक्री केंद्र बिराबदी में जब ऑडिट किया गया और  फिज़िकल वेरिफिकेशन की गई तो वहां डीएपी के 1774 और यूरिया के 1918 बैग कम पाए गए. ऐसे में स्पष्ठ था कि खाद के इस स्टॉक को बेच दिया गया है और उसकी राशि खाते में जमा ही नहीं करवाई गई.

    (इनपुट- भाषा)

    Tags: Chandigarh news, Haryana news, Haryana police, Randeep Singh Surjewala

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर