हरियाणा: 112 डायल करते ही 20 मिनट में पहुंच जाएगी पुलिस, जानें कब शुरू होगी हाईटेक सेवा

गृहमंत्री अनिल विज ने डायल 112 की प्रगति पर संतोष जताया.
गृहमंत्री अनिल विज ने डायल 112 की प्रगति पर संतोष जताया.

हरियाणा पुलिस (Haryana Police) के इस हाईटेक प्रोजेक्ट के लिए 630 नई इनोवा कार खरीदी जा रही हैं. इसके लिए करीब 4700 कर्मचारियों को लगाया जाएगा, जो नागरिकों को समय रहते पुलिस एवं प्रभावी सेवाएं उपलब्ध करवाएंगे.

  • Share this:
पंचकुला. हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने कहा कि प्रदेश में इमरजेंसी रिस्पांस एंड सपोर्ट सिस्टम डायल 112 (Dial-112) को इस वर्ष 30 दिसम्बर पूरा कर लिया जाएगा. इसके बाद राज्य के किसी भी क्षेत्र में 15 से 20 मिनट में आपातकालीन पुलिस व अन्य सेवाएं उपलब्ध होगी.

विज ने पंचकुला में पुलिस विभाग की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि हरियाणा पुलिस का यह एक क्रांतिकारी कदम हैं, जिससे राज्य में लोगों को किसी भी आपात स्थिति में पुलिस की सहायता प्राप्त होगी.

उन्होंने कहा कि इस प्रणाली के सुचारू संचालन के लिए करीब 40 करोड़ रूपए की लागत से नए भवन का निर्माण कराया गया है. तथा सी-डैक को करीब 152 करोड रुपए का वर्क आर्डर दिया गया है.



हरियाणा पुलिस के इस हाईटेक प्रोजेक्ट के तहत करीब 94 करोड़ रुपए की 630 नई इनोवा गाडियां खरीदी जा रही हैं. इसके लिए करीब 4700 कर्मचारियों को लगाया जाएगा, जो नागरिकों को समय रहते प्रभावी सेवाएं उपलब्ध करवाएंगे.
चार भाषाओं में चलेगा काॅल सेंटर

डायल 112 की प्रगति पर संतोष प्रकट करते हुए गृहमंत्री ने कहा कि राज्य के प्रत्येक नागरिक तक इन सेवाओं की पहुंच बनाने के लिए हिन्दी, अंग्रेजी, पंजाबी तथा हरियाणावी सहित चार भाषाओं के जानकारों को काॅल सेंटर में लगाया जाएगा. ये प्रदेशभर से आने वाले फोन काॅल को सुनकर आगे रिस्पांस टीम तक अपने संदेश भेजेंगे. शहरी क्षेत्रों में अधिकतम 15 मिनट तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 20 मिनट में शिकायतकर्ता के पास टीम पहुंचेगी.

इस पूरी नेटवर्क का बैक-अप डीजीपी कार्यालय में होगा तथा सी-डैक हैदराबाद में भी पूरा डाटा सुरक्षित रहेगा. इस संबंध में कोई भी शिकायतकर्ता वायस काॅल, मैसेज, मेल, वेब अलर्ट तथा सोशल मीडिया के माध्यम से भी अपनी शिकायत भेज सकेगा. इस संबंध में कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया जाएगा.

हर थाने को मिलेंगी दो गाड़ियां 

इससे पहले पुलिस महानिदेशक हरियाणा मनोज यादव ने गृहमंत्री को इमरजेंसी रिस्पांस एंड सपोर्ट सिस्टम डायल 112 की पूरी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इस परियोजना के लागू होने से अपराधस्थल पर पुलिस तुरन्त पहुंचेगी. जिसके लिए प्रत्येक थाने में 2-2 गाड़ियां उपलब्ध करवाई जाएंगी. इससे राज्य में अपराध में कमी आएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज