• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • छात्रपति हत्याकांड: राम रहीम की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, 11 जनवरी को आ सकता है फैसला

छात्रपति हत्याकांड: राम रहीम की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, 11 जनवरी को आ सकता है फैसला

(फाइल फोटो- राम रहीम)

(फाइल फोटो- राम रहीम)

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर किशन लाल, निर्मल और कुलदीप के साथ मिलकर साजिश रचकर सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या कराने का आरोप है.

  • Share this:
    साध्वी यौन शोषण मामले में रोहतक की सुनारिया जेल में सजा काट रहे राम रहीम की मुश्किलें बढ़ सकती है. पत्रकार रामचन्द्र छात्रपति हत्या मामले में पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत में बहस पूरी हो चुकी है. बुधवार को गुरमीत राम रहीम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये पेश किया गया. अन्य सभी आरोपी भी प्रत्यक्ष रूप से पेश हुए. इस मामले में 11 जनवरी को कोर्ट फैसला सुना सकता है.

    बता दें कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर किशन लाल, निर्मल और कुलदीप के साथ मिलकर साजिश रचकर सिरसा के पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या कराने का आरोप है. सुनवाई के दौरान इस मामले में आरोपी किशन लाल, निर्मल और कुलदीप पेश हुए. रोहतक की सुनारिया जेल में बंद गुरमीत राम रहीम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये पेश हुआ. इसके साथ ही गुरमीत राम रहीम व अन्य आरोपियों के वकीलों ने कोर्ट में अपनी बहस पूरी की.

    2 लाख में ताऊ ने नाबालिग भतीजी को बेचा, आज़ाद होने के लिए छत से कूदी पीड़िता

    आरोप है कि बाइक पर आए कुलदीप ने गोली मारकर रामचंद्र प्रजापति की हत्या कर दी थी, उसके साथ निर्मल भी था. छत्रपति ने अपने सांध्य कालीन समाचार पत्र पूरा सच में इस संबंध में अनाम साध्वी का पत्र प्रकाशित किया था और पूरे मामले का खुलासा किया था.

    न्‍यू ईयर पर डिनर के बहाने पत्‍नी को बाहर ले गया पति, रात में उतार दिया मौत के घाट

    इस मामले में 2003 में एफआईआर दर्ज हुई थी और 2006 में मामला सीबीआई के सुपुर्द किया गया था. इन साध्वियों से दुष्कर्म के मामले में ही गुरमीत राम रहीम सुनारिया जेल में 20 वर्ष कैद की सजा भुगत रहा है.

    ससुरालियों को बेहोश कर घर से भागी बहू, 25 हजार रुपये भी ले गई साथ

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज