Home /News /haryana /

फेसबुक पर होता था सौदा, बच्‍चों से कराते थे चरस की सप्‍लाई

फेसबुक पर होता था सौदा, बच्‍चों से कराते थे चरस की सप्‍लाई

पंचकूला के स्कूलों और इंस्टीट्यूट में पढ़ने वाले छात्रों को चरस सप्लाई करने वाले गिरोह के तीन और लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जबकि मुख्य आरोपी कमल भागने में कामयाब हो गया. वहीं कई छात्रों और स्कूल व इंस्टीट्यूट का नाम भी सामने आया है. पकड़े गए तीन युवकों में से एक 10वीं क्लास का छात्र है और वह बलटाना के प्राइवेट स्कूल में पढ़ता है. दूसरा बीए फस्ट इयर और तीसरा कैटरिंग का काम करता है  और इन तीनों को पंचकूला माजरी चौंक के पास से पकड़ा गया है.

पंचकूला के स्कूलों और इंस्टीट्यूट में पढ़ने वाले छात्रों को चरस सप्लाई करने वाले गिरोह के तीन और लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जबकि मुख्य आरोपी कमल भागने में कामयाब हो गया. वहीं कई छात्रों और स्कूल व इंस्टीट्यूट का नाम भी सामने आया है. पकड़े गए तीन युवकों में से एक 10वीं क्लास का छात्र है और वह बलटाना के प्राइवेट स्कूल में पढ़ता है. दूसरा बीए फस्ट इयर और तीसरा कैटरिंग का काम करता है  और इन तीनों को पंचकूला माजरी चौंक के पास से पकड़ा गया है.

पंचकूला के स्कूलों और इंस्टीट्यूट में पढ़ने वाले छात्रों को चरस सप्लाई करने वाले गिरोह के तीन और लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जबकि मुख्य आरोपी कमल भागने में कामयाब हो गया. वहीं कई छात्रों और स्कूल व इंस्टीट्यूट का नाम भी सामने आया है. पकड़े गए तीन युवकों में से एक 10वीं क्लास का छात्र है और वह बलटाना के प्राइवेट स्कूल में पढ़ता है. दूसरा बीए फस्ट इयर और तीसरा कैटरिंग का काम करता है  और इन तीनों को पंचकूला माजरी चौंक के पास से पकड़ा गया है.

अधिक पढ़ें ...
पंचकूला के स्कूलों और इंस्टीट्यूट में पढ़ने वाले छात्रों को चरस सप्लाई करने वाले गिरोह के तीन और लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जबकि मुख्य आरोपी कमल भागने में कामयाब हो गया. वहीं कई छात्रों और स्कूल व इंस्टीट्यूट का नाम भी सामने आया है. पकड़े गए तीन युवकों में से एक 10वीं क्लास का छात्र है और वह बलटाना के प्राइवेट स्कूल में पढ़ता है. दूसरा बीए फस्ट इयर और तीसरा कैटरिंग का काम करता है  और इन तीनों को पंचकूला माजरी चौंक के पास से पकड़ा गया है.

जानकारी के मुताबिक, सौदा फेसबुक के जरिए तय होता था. तीनों ने पूछताछ में बताया कि यह सभी फेसबुक इस्तेमाल करते है और इनके अधिकतर फेसबुक दोस्त चरस पीते है व फेसबुक पर ही सारी डील होती है इसी तरह से रोजाना फेसबुक के माध्यम से चरस का काम चलता था.

इनस्‍पेक्‍टर सुरेश कुमार ने बताया कि नाके पर चैकिंग के दौरान जब ये लड़के भागने लगे तो पुलिस ने पीछा कर इन्हें पकड़ा और चैकिंग के दौरान इनसे चरस बरामद हुई. पुलिस के मुताबिक, पंचकूला के स्कूलों और इंस्‍टीट्यूट में पढ़ने वाले 2 छात्रों समेत गिरोह के तीन और लोगों को पुलिस ने चरस स्पलाई करने के आरोप में गिरफ्तार किया है, जबकि मुख्य आरोपी कमल भागने में कामयाब हो गया जोकि हिमाचल से नशा लेकर आता था और इन विद्धार्थियों को बेचने के  लिए चरस देता था व साथ ही यह भी लालच दिया जाता था कि तुम बेचकर आओ,तुम्हें चरस पीने को फ्री दिए जाएगी. लालच के चलते दिनों दिन विद्धार्थी नशे के गर्त में फंस रहे हैं.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर