पानीपत: 5 साल के मासूम को आवारा कुत्तों ने नोच कर मार डाला, मां-बाप लेने गए थे दवाई

बच्चों को घर पर छोड़ दवाई लेने गए थे मां-बाप

बच्चों को घर पर छोड़ दवाई लेने गए थे मां-बाप

Panipat News: लोगों ने पत्थर मारकर कुत्तों को भगाने का प्रयास किया, लेकिन कुत्ते बच्चे को खींचते हुए खेत में ले गए. अस्‍पताल ले जाने से पहले ही मासूम की मौत हो गई.

  • Share this:

पानीपत. हरियाणा के पानीपत जिले के ऊझा रोड पर नलवा कॉलोनी निवासी योगी नामक 5 वर्षीय मासूम खेलते-खेलते अपने दोस्तों के साथ रिसालू रोड पर चला गया. यहां आवारा कुत्तों (Street Dogs) ने मासूम को अपना शिकार बना लिया. वह गंभीर हालत में सड़क किनारे तड़पता रहा. राहगीरों ने मासूम को लहूलुहान हालत में देख इसकी सूचना स्थानीय सेक्टर-29 थाना  पुलिस को दी. जब तक परिजन और पुलिस (Police) मौके पर पहुंचे मासूम दम तोड़ चुका था.

परिजनों का बेटे की मौत के बाद रो-रोकर बुरा हाल है. बताया जा रहा है कि परिजन घर पर नहीं थे और बेटा खेलते-खेलते बाहर निकल आया और यह हादसा हो गया. मासूम की मौत की सूचना पाकर कॉलोनीवासी व परिवार के अन्य सदस्य मौके पर पहुंचे. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल भिजवाया.

मूल रूप से उत्तर प्रदेश निवासी सतपाल प्रजापत ने बताया कि वह पत्नी मनीषा और तीन बच्चे बड़ा बेटा मोदी (6), मंझला बेटा योगी (5) और सबसे छोटे बेटे राहुल (1) के साथ पिछले डेढ़ साल से नलवा कॉलोनी में रह रहा है. वह कृष्णा गार्डन के पास ऑटो में पुराने कपड़े खरीदने और बेचने का काम करता है. शनिवार को उनकी पत्नी मनीषा की हालत खराब हुई तो वह इलाज कराने के लिए सुबह साढ़े दस बजे पत्नी और सबसे छोटे बेटे राहुल को लेकर डॉक्टर के पास नूरवाला गया था.

बड़े बेटे मोदी और मंझले बेटे योगी को घर पर छोड़ गए थे. जब वह दोपहर करीब ढाई बजे घर आए तो उन्हें मोदी घर के पास खेलता मिला जबकि योगी लापता था. इसी बीच सूचना मिली कि एक बच्चे को कुत्तों ने नोंच कर मार दिया है. सूचना पर वह रिसालू रोड पर पहुंचे तो वहां एक शव पड़ा हुआ था. उन्होंने पास जाकर देखा तो वह उनके बेटे योगी का था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज