Lockdown बना मजाक: पानीपत में जुटी 1000 लोगों की भीड़, BJP सांसद ने किया संबोधित
Panipat News in Hindi

Lockdown बना मजाक: पानीपत में जुटी 1000 लोगों की भीड़, BJP सांसद ने किया संबोधित
सांसद से मिलने पहुंचे पीटीआई टीचर

सांसद संजय भाटिया (MP Sanjay Bhatia) बार-बार शिक्षकों से दूरी बनाए रखने की अपील (Appeal) की. लेकिन इतनी भीड़ में उनकी भी कोई सुनवाई नहीं हुई.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
पानीपत. सरकार द्वारा कोरोना महामारी से  बचाव के लिए  एक मूल मंत्र बताया गया है की सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन किया जाए. यानी एक दूसरे से कम से कम 2 गज की दूरी बहुत जरूरी है. इसके बावजूद सांसद संजय भाटिया और जिला प्रशासन की लापरवाही से पानीपत (Panipat) की सनौली रोड सब्जी मंडी में धारा-144 और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां बुधवार को उड़ गईं. एक ही जगह पर बगैर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किए करीब एक हजार लोगों की भीड़ एक से डेढ़ घंटे तक जमा रही.

जिले के लोगों की जान को जोखिम में डालने के साथ ही उन पीटीआई टीचरों की जान को भी कोरोना संक्रमण के जोखिम में डाल दिया. पढ़े लिखे अध्यापक ही पानीपत में धारा 144 का उलंघन करते नजर आए. यही नहींं पानीपत के सब्जी मंडी में अध्यापक ने सोसल डिस्टेंस का भी पालन नहीं किया.

बता दें कि प्रदेश के सभी पीटीआई टीचर अपनी नौकरी बचाने की मांग को लेकर यहां सांसद संजय भाटिया से मिलने आए थे. क्योंकि सुप्रीम कोर्ट द्वारा उनके विरोध में निर्णय दे दिया गया है. लेकिन छात्रों को शारीरिक शिक्षा का पाठ पढ़ाने शिक्षक वाले खुद  दूरी बनाए रखने का का पाठ ही भूल गए. हालांकि सांसद संजय भाटिया जरूर उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की हिदायतें देते रहे.



पीटीआई टीचरों को भाजपा सांसद ने किया संबोधित




सांसद ने शिक्षकों से कही ये बात

उन्होंने बार-बार शिक्षकों से दूरी बनाए रखने की अपील की. लेकिन इतनी भीड़ में उनकी भी कोई सुनवाई नहीं हुई. शिक्षकों की मांगों को लेकर तो सांसद संजय भाटिया इतना ही कह पाए कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का सम्मान करना पड़ेगा लेकिन फिर भी उनसे जो बन पड़ेगा वह जरूर करेंगे.  वहीं इस मामले में उपायुक्त धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि इस बारे में उनसे कोई अनुमति नहीं ली गई थी. मीडिया द्वारा उनके संज्ञान में ये मामले सामने आया है. संबंधित अधिकारियों से इस मामले में पूछताछ की जा रही है.

क्या है पूरा मामला

सुप्रीम कोर्ट की ओर से वर्ष 2010 में हरियाणा की तत्कालीन सरकार की ओर से की गईं पीटीआई शिक्षकों की भर्ती को निरस्त कर दिया गया है. जिससे नाराज पीटीआई अध्यापक सांसद संजय भाटिया से मिलने पानीपत पहुंचे. सांसद के कार्यालय में इतनी बड़ी संख्या में लोगों से मिलने की जगह नहीं थी तो सब्जी मंडी में स्टेज और माइक लगाकर इसे एक जनसभा का रूप दिया गया.

ये भी पढ़ें-

लॉकडाउन में क्रिकेट खेलने हरियाणा पहुंचे दिल्ली BJP प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी

चंडीगढ़ में कोरोना से चौथी मौत, 3 दिन की बच्ची ने तोड़ा दम
First published: May 28, 2020, 12:21 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading