अपना शहर चुनें

States

आसाराम केस के मुख्य गवाह पर हमला, सुरक्षा में तैनात दो पुलिसकर्मी सस्पेंड

महेंद्र चावला पर हमले के आरोपित को नहीं पकड़ने पर सुरक्षा में तैनात दो सिपाही सस्पेंड
महेंद्र चावला पर हमले के आरोपित को नहीं पकड़ने पर सुरक्षा में तैनात दो सिपाही सस्पेंड

पुलिस (Police) ने उन्हें पांच पुलिसकर्मी सुरक्षा (Security) के लिए दिए हुए हैं, लेकिन सुरक्षा में लापरवाही बरतने और ड्यूटी को सही ढंग से नहीं निभाने के चलते पानीपत के पुलिस अधीक्षक ने उन्हें सस्पेंड (Suspend) कर जांच शुरू कर दी है.

  • Share this:
पानीपत. आसाराम (Asaram) के खिलाफ दुष्कर्म मामले (Rape case) में मुख्य गवाह (Main witness) सनौली खुर्द के महेंद्र चावला की सुरक्षा में तैनात सिपाही आशीष और अजय को एसपी ने सस्पेंड कर दिया गया है. पिछले दिनों महेंद्र चावला पर पूर्व सरपंच ने जानलेवा हमला किया था. सुरक्षाकर्मियों ने भी आरोपियों को नहीं पकड़ा है. इसलिए काम में लापरवाही के चलते पुलिस अधीक्षक ने उन्हें सस्पेंड किया है.

मामला 16 नवंबर की शाम को है गांव में महेंद्र चावला के घर के पास गली में नाली का निर्माण चल रहा था. इस मामले को लेकर जब महेंद्र चावला घर से बाहर निकले तो पूर्व सरपंच सुरेंद्र शर्मा ने उन पर हमला कर दिया. उस समय सुरक्षा में तैनात उसके साथ केवल दो ही पुलिसकर्मी थे.

5 पुलिसकर्मी सुरक्षा में तैनात



पुलिस ने उन्हें पांच पुलिसकर्मी सुरक्षा के लिए दिए हुए हैं, लेकिन सुरक्षा में लापरवाही बरतने और ड्यूटी को सही ढंग से नहीं निभाने के चलते पानीपत के पुलिस अधीक्षक ने उन्हें सस्पेंड कर जांच शुरू कर दी है और महेंद्र चावला की सुरक्षा पांच पुलिसकर्मी तैनात कर दिया है.
आरोपी सरपंच को मिली जमानत

दूसरी ओर, कार्यकारी सरपंच प्रदीप शर्मा ने आरोप लगाया कि महेंद्र चावला ने नाली और गली के निर्माण में बाधा डाली और उसके साथ मारपीट की. सनौली थाना पुलिस ने मामला दर्ज करके 17 नवंबर को आरोपित सुरेंद्र शर्मा को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां से उसे जमानत मिल गई.

यह भी पढ़ें- RTA कार्यालय के कर्मचारियों की कार्यशैली से जनता परेशान, समय पर नहीं पहुंचते दफ्तर

यह भी पढ़ें- शादी का कार्ड लेकर पीएम मोदी से मिलने संसद पहुंचीं 'दंगल गर्ल' बबीता फोगाट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज