Panipat: एक साल के बेटे और पत्नी की गला दबाकर की हत्या, फिर ट्रेन के आगे कूदकर बाउंसर ने दी जान

बाउंसर ने उठाया खौफनाक कदम

बाउंसर ने उठाया खौफनाक कदम

Murder And Sucide case : बाउंसर मैसी एक प्रापर्टी डीलर के यहां काम करता था, वारदात करने और खुद सुसाइड करने से पहले उसने अपने मालिक, ससुर और जीजा को फोन पर अपने कृत्य करने की फोन पर जानकारी भी दी थी.

  • Share this:

पानीपत. हरियाणा के पानीपत (Panipat) जिले में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आय़ा है. जहां एक बाउंसर ने पत्नी और एक साल के बेटे की गला दबाकर हत्या (Murder) कर दी. इसके बाद उसने ट्रेन के आगे कूदकर खुद भी जान दे दी. दोनों की हत्या के बाद उसने अपने ससुर, जीजा और मालिक के बेटे को कॉल कर वारदात की जानकारी दी थी. जीआरपी ने मामला दर्ज कर बाउंसर (Bouncer) के शव और पुलिस ने पत्नी व बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है.

बता दें कि पानीपत के गांव सिवाह निवासी 28 वर्षीय रमेश कादियान उर्फ मैसी दिल्ली में प्रॉपर्टी डीलर के पास बांउसर था. गांव में घर बनवाने और लॉकडाउन के कारण करीब डेढ़ महीने पहले उसने काम से छुट्‌टी ले ली और गांव आ गया. गुरुवार दोपहर करीब दो बजे अपने ऑनर पदम पंवार के बेटे नितिन को फोन करके बताया कि उसने अपनी 26 वर्षीय पत्नी अन्नू और एक साल के बेटे कविश को मार दिया है. अब वह आत्महत्या करने रेलवे ट्रैक पर जा रहा है.

मालिक के बेटे, ससुर और जीजा को फोन पर बताया और फिर ट्रेन से कट मरा

इसके बाद बाउंसर ने अपने सोनीपत निवासी जीजा को भी फोन कर यही बाते बताई. नितिन ने मैसी के पिता पालेराम को फोन करके पूरी बात बताई, तो पिता को यकीन नहीं हुआ। पिता मैसी के कमरे में पहुंचे तो बहू और पोता मृत मिला. जबकि मैसी कमरे में नहीं था. वह बड़े बेटे को लेकर रेलवे ट्रैक पर पहुंचे, लेकिन तब तक जवान बेटा मौत को गले लगा चुका था. सूचना पर GRP मौके पर पहुंची और शव का पंचानामा भरकर सिविल अस्पताल पहुंचाया.
पत्नी करती थी शक, रहता था परेशान

दिल्ली निवासी पद्म पंवार के यहां पर रमेश बीते पांच साल से अधिक समय से काम कर रहा था. उन्होंने बताया कि मैसी और उसकी पत्नी में झगड़ा होता रहता था. वह उस पर शक करती थी. इससे वह परेशान रहता था. बीते डेढ़ महीने में घर पर रहने के दौरान मैसी से कम ही बात हो पाई यह कदम उठाने से पहले अगर वह एक बार बात कर लेता तो कोई न कोई रास्ता निकाला जा सकता था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज