Home /News /haryana /

हरियाणा: ट्रैफिक पुलिस का कारनामा, कार में हेलमेट न पहनने पर काट दिया चालान

हरियाणा: ट्रैफिक पुलिस का कारनामा, कार में हेलमेट न पहनने पर काट दिया चालान

कार पर हेलमेट ने पहनने का काट दिया चालान

कार पर हेलमेट ने पहनने का काट दिया चालान

कार नो पार्किंग (No Parking) में खड़ी थी. पुलिस ने नो पार्किंग के साथ-साथ कार चालक के विदाउट हेलमेट (Without Helmet) का चालान भी काट कर कार मालिक के घर भेज दिया.

पानीपत. जिला की ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) आजकल अपनी कार्यप्रणाली के चलते सुर्खियों  में है. ताजा मामला समालखा का है जहां सोनू नामक युवक अपनी फैक्ट्री मालिक (Factory Owner) की कार मांगकर बीमार बेटी का इलाज करवाने गया था. सोनू ने कार को जीटी रोड पर किनारे में खड़ा किया था. इसी दौरान ट्रैफिक पुलिस ने कार का ऑनलाइन नो पार्किंग (No Parking) का चालान किया और भेज दिया. इसके साथ उन्होंने कार में हेलमेट (Helmet) न पहनने का चालान भी भेज दिया.

बता दें कि बापौली के रहने वाले कार मालिक प्रवीण कुमार ने कार अपने दोस्त को दी थी, जिसे वह अपनी ढाई साल की मूक-बधिर बेटी का इलाज कराने लिए ले गया था. प्रवीण ने बताया कि पांच दिन पहले उनके मोबाइल पर मैसेज के साथ ऑनलाइन चालान पहुंचा. कार की गलत पार्किंग के लिए 1500 रुपये जुर्माना लगाने के साथ ही चालक के हेलमेट न पहनने पर 1000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है.

3500 रुपये का काटा चालान
दोनों जुर्माना राशि मिलकर 2500 रुपये होती है. यह भी 3500 रुपये दिखाई गई है. दोस्त से पूछने पर उसने भी पुलिस द्वारा किसी तरह का चालान काटे जाने की जानकारी होने से मना कर दिया. प्रवीण के मुताबिक चालान में कार की फोटो है, उसमें कोई नहीं बैठा है. फिर भी कार में हेलमेट न पहनने का चालान कर दिया गया. अब उन्हें ठीक कराने के लिए भटकना पड़ेगा. यदि ठीक नहीं किया जाता है तो सीएम विंडो पर शिकायत दर्ज कराएंगे.

ट्रैफिक पुलिस ने कही ये बात
वहीं इस मामले में हाईवे ट्रैफिक पुलिस के चौकी प्रभारी का कहना है कि यह प्रकरण शनिवार को उनके संज्ञान में आया. जांच की तो पता चला कि लिपिक की गलती से ऐसा हुआ, इसे ठीक करा दिया जाएगा. आगे से ऐसी गलती न हो इस बात का भी ध्यान रखा जाएगा.

Tags: Haryana police, Traffic Police

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर