लाइव टीवी

पानीपत के किसानों ने कहा- किसी को चिमनियों से निकल रहा धुआं नहीं दिखाई दे रहा

News18 Haryana
Updated: November 4, 2019, 7:20 PM IST
पानीपत के किसानों ने कहा- किसी को चिमनियों से निकल रहा धुआं नहीं दिखाई दे रहा
पानीपत के किसानों का कहना है कि जिले में सिर्फ 2 जगह ही पराली जलाई गई.

किसानों ने कहा कि सरकार और मीडिया को चिमनियां या बड़ी फैक्ट्रियां नहीं दिखाई नहीं दे रही है. उनसे हो रहे प्रदूषण नहीं दिखाई दे रही है. सरकार और मीडिया को सिर्फ किसानों की पराली दिखाई दे रही है.

  • Share this:
पानीपत. हरियाणा के पानीपत (Panipat) जिले में किसान पराली नहीं जला (Burning Straw) रहे हैं. पराली नहीं जलाने के मामले में पानीपत जिला प्रदेशभर में नम्बर 1 पर है. यहां के किसानों (Farmers)  का कहना है कि पानीपत में सिर्फ 2 जगह ही पराली जलाई गई है. पराली जलाने वाले इन किसानों पर प्रशासन ने जुर्माना भी किया है. पिछले साल पानीपत में केवल 18 एकड़ भूमि पर पराली जलाई गई थी. यहां किसानों ने कहा कि उन्हें बेवजह बदनाम किया जा रहा है. किसानों ने कहा कि मीडिया और सरकार को फैक्ट्रियों और चिमनियों से लगातार निकलता धुआं और इसके कारण हवा में फैल रहा प्रदूषण नहीं दिखाई दे रहा है.

'हम पराली नहीं जलाते'

बता दें कि औद्योगिक नगरी पानीपत में भी लगातार बढ़ते प्रदूषण से जनता परेशान है, लेकिन किसानों ने इस मामले को लेकर मीडिया और सरकार को जिम्मेवार ठहराया है. यहां के किसानों ने कहा कि कोई भी किसान अपने खेतों में पराली नहीं जलाया. बढ़ते प्रदूषण के लिए किसानों ने उद्योगों को जिम्मेवार ठहराया. किसानों ने कहा कि सरकार और मीडिया उन्हें दोषी साबित करने में तुली हुई है. सरकार और मीडिया को चिमनियां या बड़ी फैक्ट्रियां नहीं दिखाई नहीं दे रही है. उनसे हो रहे प्रदूषण नहीं दिखाई दे रही है. सरकार और मीडिया को सिर्फ किसानों की पराली दिखाई दे रही है.

पानीपत के किसानों ने कहा कि यहां के किसान पराली को पशुओं के चारे और अन्य कामों में इस्तेमाल करते हैं.


किसानों के मुताबिक हरियाणा में धान की फसल की कटाई भी पूरी नहीं हुई है. पानीपत के किसानों ने कहा कि यहां के किसान पराली को पशुओं के चारे और अन्य कामों में इस्तेमाल करते हैं.

हरियाणा में फैलते प्रदूषण को लेकर हाहाकार मचा हुआ है. मीडिया हो या फिर सरकार तमाम लोग इसके लिए किसानों को दोषी साबित करने पर जुटे हैं. प्रदूषण के आंकड़े सामने आने के बाद इतना तो कोई भी बदनाम नहीं हुआ जितना अबकी बार किसान पराली जलाने के कारण हुए.

ये भी पढ़ें - हरियाणा की नई विधानसभा का पहला सत्र शुरू, सीएम और डिप्टी सीएम ने ली शपथ
Loading...

ये भी पढ़ें - पूरा परिवार गाड़ी समेत भाखड़ा नहर में कूदा, गोताखोरों ने ढूंढ़ निकाले तीनों शव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पानीपत​ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 7:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...