अपना शहर चुनें

States

पानीपत: मार्केट कमेटी के पूर्व चेयरमैन ने खुद को मारी गोली, इस बात से थे परेशान

आत्महत्या का कारण लॉकडाउन में हुआ घाटा बताया जा रहा है
आत्महत्या का कारण लॉकडाउन में हुआ घाटा बताया जा रहा है

जब तक उन्‍हें अस्‍पताल (Hospital) ले जाया गया, तब तक मौत (Death) हो गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 24, 2020, 1:38 PM IST
  • Share this:
पानीपत. हरियाणा के पानीपत जिले के समालखा हलके में मार्केट कमेटी के पूर्व चेयरमैन हरपाल सिंह गाहल्‍याण (Harpal Singh Gahlyan) ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या (Suicide) कर ली. गोली चलने की आवाज सुनकर उनकी बेटी जब कमरे में पहुंची तो उसकी चीख निकल गई. पिता के शरीर से खून बह रहा था. आनन फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया. लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी. परिजनों की मानें तो गोली कैसे लगी, ये पता नहीं चल सका है.

बता दें कि 55 वर्षीय हरपाल सिंह गाहल्‍याण की चार बेटी और एक बेटा है. तीन बेटियों की शादी हो चुकी है. एक बेटी और एक बेटा घर पर हैं. भाजपा नेता एवं प्रापर्टी डीलिंग का काम करने हरपाल सिंह समाजसेवा में लगे रहते थे. हरपाल की मौत की खबर से समालखा के लोगों सन्‍न रह गए हैं. उन्‍हें यकीन नहीं हो रहा कि हरपाल अब नहीं रहे.

घाटा होने की वजह से डिप्रेशन में थे



बताया जा रहा है कि लॉकडाउन की वजह से प्रॉपर्टी में घाटा होने की वजह से  वो डिप्रेशन में थे. इसीलिए उन्होंने ने आत्महत्या कर ली. वहीं मामले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पानीपत के सामान्य हॉस्पिटल भिजवा दिया.
करनाल में नशेड़ी बाप ने तीन बच्चों को नहर में फेंका

वहीं हरियाणा के करनाल (Karnal) जिले में एक दिल दहला देने वाला वाकया हुआ. जिले के गांव कलवेडी के समीप आवर्धन नहर में देर रात करीब 10 बजे एक पिता द्वारा अपने तीन बच्चों को नहर में फेंकने का मामला सामने आया है. कुछ चश्मदीद लोगों ने उस पिता को बच्चों को नहर में फेंकते हुए भी देखा है. सूचना मिलने पर कुंचपुरा थाना प्रभारी पुलिस बल (Police Force) के साथ मौके पर पहुंच गए और उन्होंने मामले की जांच शुरू कर दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज