पानीपत: व्रत में कुट्टू का आटा खाने से परिवार के 4 लोगों की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती

व्रत का आटा खाने से 4 लोग बीमार
व्रत का आटा खाने से 4 लोग बीमार

Panipat News: आनन फानन में बीमारों को पानीपत के सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 19, 2020, 8:51 AM IST
  • Share this:
पानीपत. हरियाणा के पानीपत (Panipat) जिले में व्रत में कुट्टू का आटा (Kuttu Flour) खाने से एक ही परिवार के चार सदस्यों की तबीयत बिगड़ गई है. शनिवार को पहला नवरात्र था और परिवार ने रात को कुट्टू के आटे से भोजन बनाकर खाया था. रात को पति-पत्नी औरं उनके बच्चों को उल्टी-दस्त होने लगा. डॉक्टर से पूछकर दवा ली लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा और हालत और बिगड़ गई. इसके बाद परिवार बेहोश हो गया. पड़ोसियों ने एंबुलेंस बुलाकर सभी को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया, जहां सभी का इलाज चल रहा है.

महादेव कॉलोनी निवासी सुशील (40), पत्नी कोमल (32 ), पायल (12) और गुनगुन (14) ने रात करीब आठ से नौ बजे के बीच कुट्टू के आटे से भोजन बनाकर ग्रहण किया. इस दौरान पांच वर्षीय बेटा लक्ष्य सो गया था, जिसकी वजह से उसने खाना नहीं खाया था. कॉलोनी में एक दुकान से सुशील कुट्टू का आटा लेकर आया था. रात करीब दो बजे पहले पायल और गुनगुन की तबीयत बिगड़ी. उसे उल्टी होनी शुरू हो गई. इसके साथ ही दस्त भी होने लगे.

परिवार के सदस्यों को पहुंचाया अस्पताल



दंपती ने पास के एक डॉक्टर से दवा लेकर दी लेकिन कोई आराम नहीं मिला. इतने में दंपती की भी तबीयत बिगड़ गई. तबीयत बिगड़ने पर पड़ोसियों को बुलाया. इतने में लक्ष्य को छोड़कर परिवार के सभी सदस्य बेहोश हो गए. पड़ोसियों ने जनसेवा दल के सदस्यों को कॉल किया और उनसे एंबुलेंस लेकर आने को कहा. जनसेवा दल के सदस्य रात में ही एंबुलेंस लेकर महादेव कालोनी पहुंचे और परिवार को सिविल अस्पताल पहुंचाया.
पति बाजार से लेकर आया था आटा

अस्पताल में भर्ती कोमल नाम की महिला ने बताया कि उनके पति बाजार से यह आटा लेकर आए थे जैसे शाम को खाना बनाकर खाया तो तबीयत बिगड़ना शुरू हो गई. उन्होंने बताया कि घर में छोटा बच्चा है जो खाना खाने से पहले ही सो गया था. उसकी तबीयत में कोई गड़बड़ी नहीं हुई. वह बिल्कुल ठीक है. परिवार ने तबीयत बिगड़ने का कारण आटे को ही बताया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज