बेटे की मौत के बाद न्याय के लिए अनशन पर बैठे परिजन, स्कूल संचालक की गिरफ्तारी की मांग

परिवार के साथ सैकड़ों की संख्या में पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कार्तिक के मां-बाप सचिवालय पहुंचे.

SUMIT KUMAR | News18 Haryana
Updated: April 18, 2019, 4:14 PM IST
बेटे की मौत के बाद न्याय के लिए अनशन पर बैठे परिजन, स्कूल संचालक की गिरफ्तारी की मांग
मृतक बच्चे के परिजन
SUMIT KUMAR | News18 Haryana
Updated: April 18, 2019, 4:14 PM IST
प्राइवेट स्कूल की बस के फर्श के छेद से निकलकर टायर के नीचे आने से कार्तिक की मौत के 27 दिन बाद इंसाफ के लिए परिवार को आमरण अनशन पर बैठना पड़ रहा है. आमरण अनशन के तीसरे दिन सब्र जवाब दे गया.

परिवार के साथ सैकड़ों की संख्या में पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कार्तिक के मां-बाप सचिवालय पहुंचे. इस दौरान पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई और पुलिस पर आरोपी पक्ष के साथ मिलीभगत कर केस को कमजोर करने के आरोप लगाए गए.



कार्तिक के मां और पिता का आरोप है कि पुलिस द्वारा स्कूल प्रबंधन के प्रबंधक के खिलाफ जो धाराएं लगाई गई है वह पर्याप्त नहीं है. पुलिस के खिलाफ नारेबाजी को देखते हुए प्रशासन द्वारा मौके पर पुलिस बल बुलाया गया और परिवार को समझाने की कोशिश की गई.

लेकिन कार्तिक का परिवार किसी भी सूरत पर मानने को तैयार नहीं था. मामला बढ़ता देख एसडीएम वीणा हुड्डा मौके पर पहुंची और कार्तिक के मां बाप को समझाया कि मामले में निष्पक्ष जांच की जाएगी और आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा.

ये भी पढ़ें-

JJP आज उम्मीदवारों की कर सकती है घोषणा, गीता फोगाट को सोनीपत से मिल सकता है टिकट

पीएम मोदी और अमित शाह ने दी बृजेंद्र को हिसार लोकसभा सीट से टिकट: चौ. बीरेंद्र सिंह
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार