पानीपत: दहेज के लिए हैवान बना पति, पत्नी को गर्म रॉड से पीटा, केस दर्ज

दहेज के लिए युवती को पीटा

Panipat News: दहेज की मांग पूरी न होने पर युवती के साथ मारपीट की जाती. पति के साथ सास-ससुर, ननद और पड़ोसी भी मारपीट करते. घर बसाने के लिए वह मारपीट सहती रही.

  • Share this:
पानीपत. हरियाणा के पानीपत जिले में दहेज की मांग (Demand of Dowry) पूरी न होने पर एक पति ने अपनी पत्नी की बेरहमी से पिटाई कर दी. उसने गर्म रॉड से महिला को पीटा (Woman thrashed with hot rod). यहीं नहीं बेरहम पति दहेज की खातिर अपनी पत्नी को बेल्टों से भी पीटता था. घर बसाने के लिए युवती यातनाएं सहती रही. जब पति ने परिजनों और पड़ोसियों के साथ मिलकर उसे जान से मारने की साजिश रची तो वो गाय को रोटी खिलाने के बहाने घर से निकलकर पानीपत पहुंच गई. युवती की शिकायत पर पुलिस ने पति समेत सात नामजद व एक अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है.

बता दें कि पानीपत की रहने वाली शालू नामक महिला के साथ घटी जब टैक्सी चालक की नेक दरियादिली से वह सुरक्षित अपने घर पहुंची. दिल्ली अपने सुसराल वालों  जान बचाकर भागकर वो पानीपत स्टेशन पहुंची.  टैक्सी में बैठकर अंबाला पहुंच गई अंबाला पहुंचने पर जब टैक्सी ड्राइवर ने किराया मांगा तो उसके पास पैसे नहीं थे. तब रोने लगी और वहीं बेहोश हो गई. टैक्सी ड्राइवर उसे वापिस पानीपत लेकर आया और अपने किसी परिचित महिला के घर छोड़ दिया. महिला व ड्राइवर की ईमानदारी व नेक नियत ने उसे उसके परिजनों से मिलवा दिया.

शालू के भाई पंकज ने बताया कि बहन के ससुराल से फोन आया था कि शालू घर छोड़कर चली गई है उसे पानीपत ढूंढ लेना. पंकज ने कहा कि जब बहन का कहीं पता नहीं चला तो दिल्ली स्वरूप नगर में जाकर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाने पहुंचे. लेकिन पुलिस ने राजनीति दवाब के चलते मुकदमा दर्ज नहीं किया. उन्होंने कहा कि बहन के ससुराल वाले उससे दहेज के नाम से लाखों रुपये मांगते थे. भाई ने बताया कि 7 बहनों व 2 भाइयो में सबसे छोटी शालू की शादी 2 साल पहले  दिल्ली में हुई थी .

शालू ने अपनी आपबीती बताते हुए कहा कि दिल्ली से पानीपत  स्टेशन पर पहुंची तो  टैक्सी से अम्बाला पहुचने पर  किराया मांगने लगे . उसने  बताया कि  पिछले कई दिनों  भूखी प्यासी थी तभी वहीं बेहोश हो गई. टैक्सी ड्राइवर अम्बाला से मुझे अपने किसी रिश्तेदार के घर ले गया. वहीं दो-तीन दिन रह कर जब मुझे होश आया तो मैंने अपने परिजनों का नंबर दिया. शालू ने बताया कि ससुराल वाले मुझे मारते पीटते थे. लेकिन एक रात मैंने उनकी बातें सुनी  कि सुबह उठते ही इसको मार देंगे. तभी अपने सुसराल से भागकर आ गई.

महिला गीता ने शालू को अपने घर पनाह देने के बाद कहा कि लड़की की हालत बड़ी खराब थी.  3 दिन से बेहोश थी इसको दवाई दिलवाई. गीता ने कहा कि बताया कि 10 तारीख  रात को लगभग 9 व 10 बजे मेरे पास आई थी. इसकी तबीयत बहुत खराब थी  इसको होश नहीं थी. 3 दिन बाद उसको होश आया. तब इसने परिजनों का नंबर बताया तो उस नंबर पर लड़की की सुमन भाभी से बात कर लड़की की आपबीती बताई तो आज वहां लेने पहुंचे है.

संदीप ने बताया कि पानीपत से यह मेरी गाड़ी में बैठने के बाद अंबाला पहुंची. अंबाला पहुंचने पर उसने किराया मांगा तो उसके पास किराया नहीं था. लेकिन इसकी हालत बहुत ज्यादा खराब थी. तभी मैं इसे वापस पानीपत लाकर गीता महिला के पास छोड़ दिया. वहीं केस दर्ज करने के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.