होम /न्यूज /हरियाणा /हरियाणाः ‘मैं पढ़ाई में कमजोर हूं’, नाबालिग छात्रा ने अपना गला काटा, अस्पताल में भर्ती

हरियाणाः ‘मैं पढ़ाई में कमजोर हूं’, नाबालिग छात्रा ने अपना गला काटा, अस्पताल में भर्ती

छात्रा की जान बच गई और अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है. फिलहाल उसकी हालत स्थिर है.

छात्रा की जान बच गई और अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है. फिलहाल उसकी हालत स्थिर है.

Minor Girl Student Attempted Suicide: परिजन घर पर नहीं थे तो जैसे ही पड़ोसियों को पता लगा तो उसे प्राइवेट हॉस्पिटल लेकर ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पढ़ाई में कमजोर होने की वजह से सुसाइड करने की सोची और अपने गले को चाकू से काट डाला.
परिजन घर पर नहीं थे तो जैसे ही पड़ोसियों को पता लगा तो उसे प्राइवेट हॉस्पिटल लेकर पहुंचे.

पानीपत.  पढ़ाई में मन नहीं लगता था. इसलिए नाबालिग छात्रा ने अपना गला काटने की कोशिश की. हालांकि, छात्रा की जान बच गई और अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है. फिलहाल उसकी हालत स्थिर है.मामला हरियाणा के पानीपत जिले का है.

जानकारी के अनुसार, पानीपत की एक कॉलोनी में लड़की गरीब परिवार से तालुल्क रखती है. लड़की ने पढ़ाई में कमजोर होने की वजह से सुसाइड करने की सोची और अपने गले को चाकू से काट डाला. परिजन घर पर नहीं थे तो जैसे ही पड़ोसियों को पता लगा तो उसे प्राइवेट हॉस्पिटल लेकर पहुंचे. लड़की के माता-पिता को भी सूचना दी गई. बाद में परिजन लड़की को सिविल हॉस्पिटल लेकर आए, जहां पर डॉक्टरों ने उसकी मरहम पट्टी करने के बाद रेफर कर दिया.

पूरे मामले को लेकर जब लड़की से पूछा गया तो लड़की ने कहा कि मैं पढ़ाई में काफी कमजोर हूं और इस वजह से उसने यह कदम उठाया.  इस मामले में जब पिता से बात की गई तो पिता का कहना था कि हम गरीब हैं और मेरी बेटी सरकारी स्कूल में पढ़ती है.  बेटी चाहती थी कि वह प्राइवेट स्कूल में पढ़े और उसका ट्यूशन लगे. गरीबी के कारण मैं उसे प्राइवेट स्कूल वह ट्यूशन लगवाने में असमर्थ हूं, जिसकी वजह से शायद बच्ची ने यह कदम उठाया. फिलहाल बच्ची की स्थिति नाजुक देख डॉक्टरों ने उसको रेफर किया. हालांकि, छात्रा की हालत खतरे से बाहर है.

Tags: Haryana police, Panipat crime news, Suicide attempt

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें