पानीपत से फर्जी ASI और IG का पीए गिरफ्तार, Jobs लगाने के नाम करता था ठगी

पानीपत पुलिस ने नौकरी दिलाने का झांसा देने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.
पानीपत पुलिस ने नौकरी दिलाने का झांसा देने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

पानीपत में होमगार्ड मे नौकरी (Jobs) लगवाने के नाम पर अलग-अलग 10 लोगों के साथ ठगी (Cheating) करने की वारदात को अंजाम देने वाले फर्जी एएसआई (Fake ASI) और उसके साथी को पुलिस ने गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है.

  • Share this:
पानीपत. पानीपत में होमगार्ड मे नौकरी (Jobs) लगवाने के नाम पर अलग-अलग 10 लोगों के साथ ठगी (Cheating) करने की वारदात को अंजाम देने वाले फर्जी एएसआई (Fake ASI) और उसके साथी को पुलिस ने गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है. पानीपत के नोहरा गांव के निवासी आरोपी संजय खुद अपने आप को हरियाणा पुलिस में एएसआई बताते हुए और पुलिस के उच्च अधिकारियों से जान पहचान होने की बात बोलकर लोगों को होमगार्ड में नौकरी लगवाने का झांसे में लेकर ठगी को अंजाम देता था. वहीं गिरोह मे शामिल अंकित धिमान निवासी आर्दश कॉलोनी सफीदों आईजी का फर्जी पीए बनकर लोगों का इंटरव्यू लेता था और बाद में इंटरव्यू मे फेल होने की बात कहकर दोनों आरोपी पैसे ठगने की वारदात को अंजाम देते थे. रिमांड के दौरान पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपी अभी तक 10 लोगों से पैसे ठगने की वारदात को अंजाम दे चुके है.

आरोपी होमगार्ड की नौकरी कर चुका है

आरोपियों के कब्जे से हरियाणा पुलिस एएसआई रैंक की एक वर्दी व ठगी गई राशि में से एक लाख 10 हजार रुपये की नकदी बरामद हो गई. आरोपी संजय वर्ष 2012 मे जिला पानीपत मे होमगार्ड में नौकरी कर चुका है. आरोपी करीब 2 वर्ष पहले मधुबन, करनाल से एएसआई रैंक की एक वर्दी खरीकर लाया और आस पड़ोस में व अन्य लोगों को अपने आप को हरियाणा पुलिस मे एएसआई के पद पर कार्यरत होने की बात बोलता था.



Satish Vats
पानीपत डीएसपी मुख्यालय सतीश वत्स ने बताया कि 18 सिंतबर 2019 को थाना मॉडल टाउन मे बलकार निवासी जाटल पानीपत ने इस बारे में शिकायत दर्ज कराई थी.

डेढ़ लाख रुपये की थी वसूली

पानीपत डीएसपी मुख्यालय सतीश वत्स ने बताया कि 18 सिंतबर 2019 को थाना मॉडल टाउन मे बलकार निवासी जाटल पानीपत ने शिकायत देकर बताया कि करीब एक वर्ष पहले संजय निवासी नोहरा जिला पानीपत ने मिलकर मझे बताया कि वह हरियाणा पुलिस में एएसआई के पद पर कार्यरत है और उसकी विभाग मे उच्च अधिकारियों के साथ जान पहचान है. इसके बाद संजय ने कहा कि वह होमगार्ड मे नौकरी लगवा देगा और इसके बदले डेढ लाख रुपए देने होंगे. वह संजय की बातों मे आ गया और होमगार्ड में नौकरी लगने के नाम पर डेढ़ लाख रुपये उसको दे दिए.

होमगार्ड में नौकरी लगवाने की बात कह रहे थे आरोपी

संजय ने इंटरव्यू के नाम पर मॉडल टाउन पानीपत में बुलाया और अंकित नाम के एक व्यक्ति ने वहां पर उसका इंटरव्यू लिया, जो अपने आप को आईजी का पीए होने की बात बोल रहा था. नौकरी नहीं मिलने पर कुछ समय बाद जब उसने संजय से संपर्क किया तो कहने लगा कि तुम इंटरव्यू मे फेल हो गए हो. इसके बाद उसने संजय व अंकित के बारे जानकारी जुटाई तो पता चला कि ना संजय हरियाणा पुलिस में एएसआई है और ना ही अंकित आईजी का पीए है. दोनों आरोपियों ने योजनाबद्ध तरीके से होमगार्ड में नौकरी लगवाने के नाम पर उससे डेढ लाख रुपये ठग लिया. फ़िलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है.

(पानीपत से सुमित भारद्वाज की रिपोर्ट)

यह भी पढ़ें: इंडियन ट्रेवलर के मालिक को ऑफिस में तीन बदमाशों ने घुसकर मारी गोली

पार्षद की बेटी के विवाह में नकदी से भरा बैग चोरी, चोर की तस्वीरें CCTV में हुई
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज