200 लड़कों को पछाड़कर हरियाणा की इस बेटी ने जीता स्वॉर्ड ऑफ ऑनर

प्रीति के पिता इंद्र सिंह आर्मी से ऑनरेरी कैप्टन के तौर पर रिटायर हुए थे. जबकि उनकी मां सुनीता टीचर हैं.

News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 5:29 PM IST
200 लड़कों को पछाड़कर हरियाणा की इस बेटी ने जीता स्वॉर्ड ऑफ ऑनर
प्रीती ने जीता स्वॉर्ड ऑफ ऑनर
News18Hindi
Updated: March 13, 2018, 5:29 PM IST
हरियाणा की बेटियां खेलों में जहां लड़कों को पछाड़ रही हैं, वहीं अब आर्मी ट्रेनिंग में भी नाम रोशन कर रही हैं. हरियाणा की बेटी प्रीती ने 200 से अधिक लड़कों को पछाड़कर प्रदेश में अपना नाम रोशन किया है. मालूम हो, 55 साल के इतिहास में पहली बार दो महिला कैडेट्स ने चेन्नई में हुई पासिंग आउट परेड में यह शीर्ष सम्मान जीता है.

पानीपत के बिंझौल गांव की बेटी प्रीती आर्मी ट्रेनिंग में 200 से भी अधिक लड़कों को पछाड़कर मेरिट लिस्ट में अपना नाम टॉप पर दर्ज करवा लिया है. इस जीत में उन्हें गोल्ड सहित स्वार्ड ऑफ ऑनर से सम्मानित किया गया.

बता दें, भारतीय इतिहास में कुल तीन महिलाओं को अब तक इस सम्मान से अब तक नवाज़ा गया है. साल 2017 में ऑल इंडिया स्पैशल एनसीसी एंटरेंस में कुल 1200 कैडेट्स शामिल हुए थे. ट्रेनिंग में प्रीती टॉप पर आईं, जिसके बाद उन्हें यह सम्मान मिला.

गौरतलब है स्वॉर्ड ऑफ ऑनर ओवरऑल मेरिट में पहले नंबर पर आने वाले कैडेट को दिया जाता है. इसमें कैडेट की शारीरिक, एकेडमिक, हथियार, नेतृत्व और फील्ड इंजीनियरिंग की क्षमता को परखा जाता है.

इसमें क्रॉस कंट्री रन, बॉक्सिंग और डिबेट जैसे कॉम्पटीशन जीतने होते हैं और यह सब प्रीति ने हासिल किया हैं. प्रीति के पिता इंद्र सिंह आर्मी से ऑनरेरी कैप्टन के तौर पर रिटायर हुए थे. जबकि उनकी मां सुनीता टीचर हैं.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर