Panipat Triple Murder: आरोपी अहसान ने पहली पत्नी व बेटे के सामने खोला था राज, इस लालच में चुप रहे दोनों

पुलिस गिरफ्त में आरोपी अहसान का बेटा और पहली पत्नी

पुलिस गिरफ्त में आरोपी अहसान का बेटा और पहली पत्नी

Panipat Triple Murder: पानीपत के एक मकान में 23 मार्च को चींटियां निकलने का राज जानने के दौरान खोदे गए गड्ढे से एक महिला व दो बच्चों के कंकाल मिले थे.

  • Share this:
पानीपत. शिव नगर में तीन हत्या (Triple Murder) कर शव को घर में ही दफनाने के मामले में पुलिस ने आरोपी अहसान की पहली पत्नी नूरजहां और बेटे शाकिर को गिरफ्तार किया है. वह यूपी के मुजफ्फरनगर जिले के जग्गाहेड़ी गांव का रहने वाला है. अहसान ने पहली पत्नी और बेटे से हत्या का जिक्र किया था और लालच दिया कि वह दूसरी पत्नी से मिले पैसे से उनके लिए प्लाट खरीदेगा. इसके अलावा घर का सामान भी उन्हीं को दे देगा.

अहसान ने कहा कि इस बारे में किसी से जिक्र नहीं करना. पुलिस ने मृतक नाजनीन का समान फ्रिज, वाशिंग मशीन, एलईडी, गद्दे, ट्राली बैग बरामद किए. पत्नी नूरजहां और बेटे शाकिर को अदालत में पेश कर उन्हें जेल भेज दिया गया. पुलिस पूछताछ में आरोपी अहसान की पहली पत्नी नूरजहां ने बताया कि वह जनवरी 2017 में बेटे शाकिर के साथ पानीपत एक शादी में आई थी. शादी समारोह के बाद वह शिव नगर गई तो उसे अहसान की दूसरी पत्नी नाजनीन और दो बच्चे नहीं दिखे. उसने अहसान से उनके बारे में पूछा तो पता चला कि उसने तीनों की हत्या कर शव दफना दिए और फर्श बनवा दिया है.

उसने विरोध किया, लेकिन पति अहसान ने उससे कहा कि नाजनीन के पास लाखों रुपये थे, जिनको उसने अपने खाते में ट्रांसफर रुपये करा लिया है. उन रुपये से वह उनके लिए मुजफ्फरनगर में प्लाट खरीदेगा, लेकिन यह बारे में किसी से जिक्र मत करना. इसके बाद वह नाजनीन का फ्रिज, वाशिंग मशीन, एलईडी, गद्दे, ट्राली बैग और उनमे रखे कपड़े, कागजात चेक बुक, पासबुक, एटीएम व अन्य कागजात को साथ ले गए.

अहसान सैफी ने रिमांड के दौरान खुलासा किया कि उसने नाजनीन के रुपये से मुजफ्फरनगर स्थित रहमानिया कालोनी में प्लॉट खरीद दिया था. जो सामान प्रयोग करने का था, उसे प्रयोग में लिया और बाकी नाजनीन की चेकबुक, पासबुक, एटीएम, फोटो आदि दस्तावेजों को घर के चूल्हे में जलाकर नष्ट कर दिया था.
गरीबी दूर करने को बनाया था दूसरी शादी का प्लान 

अहसान सैफी से खुलासा हुआ कि उसकी आर्थिक स्थिति खराब थी. वह 30 साल से किराए के मकान में रहता था. खुद का मकान लेने के लिए उसने शादी डॉट कॉम से अमीर घर कर लड़की ढूंढी तो उसे मुंबई की नाजनीन मिली. दो बच्चों का पता होने के बावजूद भी उसने विरोध नहीं किया. हत्या के बाद उसने करीब तीन लाख रुपये नाजनीन के खाते से अपने खाते में ट्रांसफर कराए और प्लॉट खरीदा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज